अब समुद्र के नीचे पहली बार ये काम करेगा चीन

बीजिंग: चीन संसाधन संपन्न दक्षिण चीन सागर में पहली बार लंबे समय तक समुद्र के नीचे निगरानी करने के लिए एक प्लेटफॉर्म बनाएगा। चीन का दक्षिण चीन सागर को लेकर मलेशिया, फिलीपीन और वियतनाम समेत कई दक्षिण पूर्वी एशियाई देशों से विवाद है। इस प्लेटफॉर्म का उद्देश्य वास्तविक समय में समुद्र के नीचे की परिस्थितियों का अवलोकन करना है।

चाइनीज एकेडमी ऑफ साइंसेज (सी.ए.एस.) में एक शिक्षाविद वांग पिनशियान ने कहा कि दक्षिण चीन और पूर्वी चीन सागर में दीर्घकालीन निगरानी प्लेटफार्म पर निर्माण कार्य शंघाई की टोंगजी यूनिवर्सिटी और इंस्टीट्यूट ऑफ एकोस्टिक्स की मदद से किया जाएगा। चीन के सरकारी समाचार पत्र ग्लोबल टाइम्स की खबर के मुताबिक, वांग ने गत शनिवार को शंघाई में वैज्ञानिक फोरम से कहा कि इस प्लेटफॉर्म का निर्माण करना यह दिखाता है कि चीन अंतरराष्ट्रीय स्पर्धा में सक्रिय तौर पर शामिल है।

इंस्टीट्यूट ऑफ एकोस्टिक्स ने प्लेटफॉर्म के संवेदनशील होने के कारण इसके सटीक स्थान का खुलासा करने और इस पर हुए शोध के बारे में आगे जानकारी देने से इंकार कर दिया। दक्षिण चीन सागर और पूर्वी चीन सागर में समुद्री क्षेत्र को लेकर विवाद चल रहा है।चीन तेल और प्राकृतिक गैस से संपन्न समुद्र के करीब पूरे इलाके पर अपना दावा जताता है, जबकि फिलीपीन, वियतनाम, मलेशिया, ब्रूनेई और ताइवान भी इस पर अपना दावा जताते हैं।

चीन पूर्वी चीन सागर में द्वीपों पर जापान के दावे का भी विरोध करता है।ग्लोबल टाइम्स ने ‘साइंसनेट’ की एक रिपोर्ट का हवाला देते हुए कहा कि यह प्लेटफार्म समुद्र के नीचे की भौतिक, रासायनिक और भूविज्ञानी परिस्थितियों का अवलोकन करेगा और अन्य उद्देश्य के लिए भी इसका इस्तेमाल किया जाएगा।

Previous वाराणसी में आज जनसभा को संबोधित करेंगे लालू
Next जल्द उड़ान भरेगा दुनिया का सबसे बड़ा प्लेन

About author

You might also like

राष्ट्रीय 0 Comments

अब सबको मिलेगा घर, सरकार ला रही नई रेंटल पॉलिसी

नई दिल्ली :  2022 तक सबको घर के वादे के लक्ष्य को पूरा करने लिए केन्द्र सरकार जल्द ही नई रेंटल पॉलिसी लाने की तैयारी में है। इस पॉलिसी के

बिज़नेस 0 Comments

होम लोन सस्ते होने के कम है आसार, जानिए क्यों ?

नया होम लोन लेने वालों के लिए पिछले 1 साल में होम लोन की दरें काफी कम हुई हैं। विशेषज्ञों का मानना है कि अब होम लोन की दरें इससे

अंतर्राष्ट्रीय 0 Comments

कोलंबिया में भूस्खलन : मारे गए 311 लोगों में लगभग 100 बच्चे शामिल

दक्षिणी कोलंबिया के शहर मोकोआ में पिछले हफ्ते हुए भारी भूस्खलन में मारे गए 311 लोगों में लगभग 100 बच्चे शामिल थे. यह जानकारी सरकार की ओर से आई है.

बिज़नेस 0 Comments

फ्री वाई-फाई की सुविधा दे सकता है एयर इंडिया

नई दिल्ली : एयर इंडिया जल्द ही अपने ग्राहकों को घरेलू फ्लाइट के दौरान फ्री वाई-फाई इस्तेमाल करने की सौगात देने वाला है। जुलाई से देश में हवाई सफर के

अंतर्राष्ट्रीय 0 Comments

IND vs AUS रांची टेस्ट: पिच देख ऑस्ट्रेलियाई खेमे में खलबली

रांची. रांची में होने वाले टेस्ट मैच के लिए तैयार की गई पिच को देखकर ऑस्ट्रेलियाई खेमे में हलचल है. इसका अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि

अंतर्राष्ट्रीय 0 Comments

‘कुलभूषण को बचाने के लिए ट्रंप दें दखल’- भारतीय अमेरिकियों ने शुरू की मुहिम

कुलभूषण जाधव को मौत की सजा से बचाने की कोशिश में अब अमेरिका में अमेरिका में रह रहे भारतीय अमेरिकी समुदाय भी जुट गया है. उसने ट्रंप प्रशासन को मामले

0 Comments

No Comments Yet!

You can be first to comment this post!