कुलभूषण केस: PAK में लोगों ने सरकार को कोसा

कुलभूषण केस: PAK में लोगों ने सरकार को कोसा

कुलभूषण केस में अंतरराष्‍ट्रीय अदालत में भारत की बड़ी कामयाबी के बाद पाकिस्‍तान में हताशा का माहौल है. पाकिस्‍तानी न्‍यूज वेबसाइट डॉन के मुताबिक भारत के पक्ष में इस फैसले के जाने से पाकिस्‍तान में अपनी ही सरकार के खिलाफ गुस्‍से का आलम है. दरअसल पाकिस्‍तानी विश्‍लेषक पहले इस बात से आश्‍वस्‍त थे कि आईसीजे के पास इस मामले में हस्‍तक्षेप करने का अधिकार नहीं है. हालांकि फैसला आने के बाद पाकिस्‍तानी जानकार कह रहे हैं कि पाकिस्‍तान ने बेहद कमजोर दलीलें रखीं और इसके चलते उसको हार का सामना करना पड़ा.

डॉन न्‍यूज से बातचीत करते हुए रिटायर्ड पाकिस्‍तानी जज शेख उस्‍मानी ने कहा कि आईसीजे का य‍ह निर्णय चिंताजनक है क्‍योंकि उसके पास इस मामले में फैसला देने का अधिकार क्षेत्र ही नहीं था. लेकिन यह पाकिस्‍तान की गलती है कि वह अपना पक्ष रखने वहां गया. उनको वहां नहीं जाना चाहिए था. उन्‍होंने खुद ही अपने पैरों पर कुल्‍हाड़ी मार ली.

कुछ इसी तरह लंदन में रहने वाले पाकिस्‍तानी मूल के बैरिस्‍टर राशिद आलम ने डॉन से कहा कि पाकिस्‍तान कमजोर तैयारी के साथ आईसीजे में पहुंचा और उसको अपना पक्ष रखने के लिए जो 90 मिनट का मौका मिला था, उसका सही ढंग से इस्‍तेमाल नहीं कर पाया. उन्‍होंने कहा कि पाकिस्‍तान को अपना पक्ष रखने के लिए 90 मिनट का समय था लेकिन उसने 40 मिनट बर्बाद कर दिए. उनके मुताबिक पाकिस्‍तान की तरफ से पेश खावर कुरैशी ने पूरे समय का इस्‍तेमाल नहीं किया और उपलब्‍ध समय का पूरा उपयोग ही नहीं कर सके.

विश्‍लेषक जाहिद हुसैन ने कहा कि आईसीजे का यह निर्णय पाकिस्‍तान के लिए बाध्‍यकारी तो नहीं है लेकिन नैतिक रूप से इसका दबाव बनता है. उनके मुताबिक दरअसल अंतरराष्‍ट्रीय नियमों के तहत इस तरह के निर्णयों से नैतिक जवाबदेही बनती है. हालांकि उन्‍होंने यह भी कहा कि यह नहीं कहा जा सकता कि यह निर्णय भारत के पक्ष में गया है लेकिन इस निर्णय ने फांसी की सजा पर तो रोक लगा ही दी है.

 

 

Previous कौन है कुलभूषण, क्या है किस्सा, गिरफ्तारी से अब तक...
Next नासा ने पृथ्वी के चारों ओर मानव निर्मित बुलबुलों का पता लगाया

About author

You might also like

राष्ट्रीय 0 Comments

पैसे लें सबसे पर वोट दें हमको… बयान देकर फंसे अखिलेश, चुनाव आयोग ने थमाया नोटिस

लखनऊ : चुनाव आयोग ने यूपी के सीएम अखिलेश यादव के विवादास्पद बयान को लेकर नोटिस भेजा है. आयोग ने अखिलेश से मंगलवार शाम 5 बजे तक जवाब मांगा है.

उत्तर प्रदेश 0 Comments

योगी सरकार ने 626 पुलिसकर्मियों का तबादला किया

लखनउ: उत्तर प्रदेश पुलिस के 626 एेसे कर्मियों के तबादले कर दिए गए, जिनके अवांछनीय तत्वों से संबंध थे। राज्य पुलिस मुख्यालय प्रवक्ता ने मंगलवार को बताया कि प्रदेश के

राष्ट्रीय 0 Comments

IT क्षेत्र में तीन साल तक होगी हर साल दो लाख इंजीनियरों की छंटनी

बेंगलुरू: मानव संसाधन से जुड़ी फर्म हेड हंटर्स इंडिया ने रविवार को कहा कि नई प्रौद्योगिकियों के अनुरूप खुद को ढालने में आधी अधूरी तैयारी के कारण भारतीय आईटी क्षेत्र

राष्ट्रीय 0 Comments

अफ्रीकियों पर हमला: 1200 लोगों पर केस दर्ज

ग्रेटर नोएडा में स्थानीय छात्र की मौत के बाद नाइजीरियाई नागरिकों की पिटाई और बदसलूकी के मामले में मंगलवार को पांच लोगों को गिरफ्तार किया गया। एक कांग्रेस नेता समेत

राष्ट्रीय 0 Comments

कश्मीर में पीडीपी मंत्री के घर आतंकवादी हमला, एक पुलिसकर्मी घायल

श्रीनगर : दक्षिण कश्मीर के अनंतनाग में पीडीपी के मंत्री फारूक अब्दराबी के घर पर आतंकवादियों ने रविवार रात हमला कर दिया. इस हमले में मंत्री की सुरक्षा में तैनात

राष्ट्रीय 0 Comments

ट्रेन में खराब खाना पराेसने पर रेलवे हुअा सख्त, 16 कैटरर्स ब्लैकलिस्ट

नई दिल्ली. भारतीय रेलवे ने ट्रेन में मिलने वाले खाने को लेकर सख्त रुख अपनाते हुए 16 कैटरर्स को ब्लैकलिस्ट कर दिया है. मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, रेलवे ने पिछले

0 Comments

No Comments Yet!

You can be first to comment this post!