1 अप्रैल से देश में बीएस4 लागू

1 अप्रैल से देश में बीएस4 लागू

1 अप्रैल से देश में बीएस4 लागू होने जा रहा है। इसके तहत कंपनियों ने अपनी गाड़ियों के इंजन को इसके अनुकूल अपग्रेड कर लिया है। साथ ही दुपहिया निर्माता कंपनियों ने बीएस4 के साथ एएचओ की बाध्यता को भी पूरा करना शुरू कर दिया है।

लगभग सभी ऑटो कंपनियों ने 1 अप्रैल को देखते हुए अपने सभी मॉडलों को इसके अनुकूल अपग्रेड कर दिया है। सुरक्षा के लिहाज से एएचओ को भारत में काफी महत्वपूर्ण माना जा रहा है। दुपहिया वाहनों की बढ़ रही दुर्घटनाओं पर काबू पाने के लिए यह एएचओ काफी मायने रखता है। दुनिया के कई देशों में यह पहले से ही लागू है।

एएचओ का मतलब होता है ऑटो हेडलैंप्स ऑन, यानी कि जब आपकी मोटरसाइकिल या स्कूटर का इंजन स्टार्ट होगा तो ऑटोहेडलैंप अपने आप शुरु हो जाएगा। इसको बंद करने का कोई भी विकल्प आपकी मोटरसाइकिल या स्कूटर में नहीं होगा। यह फीचर अब तक सिर्फ कुछ हाई एंड मोटरसाइकिलों में ही था लेकिन अब दुपहिया सुरक्षा को देखते हुए सरकार ने अब यह सबके लिए अनिवार्य कर दिया गया है। कई ऐसी मोटरसाइकिल बाजार में इस नियम के लागू होने से पहले ही लांच हो चुकी हैं।

ऐसे में अगर अब आपके आसपास से कोई मोटरसाइकिल गुजरे और उसकी लाइट जल रही हो तो उसको हाथ दिखाकर लाइट बंद करने का इशारा मत करना। क्योंकि अब हेडलाइट बंद करने का विकल्प उसके पास भी नहीं है। बहुत से राइडर जानकारी न होने के अभाव में अपनी मोटरसाइकिल सर्विस सेंटर लेकर भी पहुंच रहे हैं। लेकिन डरिए मत हेडलाइट ऑन रहने से बाइक का कोई नुकसान नहीं होने वाला।

देश में हर साल हजारों मोटरसाइकिल राइडर सड़क दुर्घटनाओं में अपनी जान गंवाते हैं। एक रिपोर्ट में पाया गया है कि जिन देशों में यह नियम लागू है वहां पर दुपहिया वाहनों का एक्सीडेंट हमारे देश की तुलना में बेहद कम होता है। हेडलाइट जली रहने से राइडर की प्रजेंस रोड पर पूरी तरह से रहती है और सामने से आने वाले वाहनों को भी ऐसी मोटरसाइकिल दूर से ही नजर आ जाती हैं। यह एक बेहद जरूरी सुरक्षा फीचर है और इससे सड़क मोटरसाइकिल दुर्घटनाओं में शर्तियातौर पर कमी आएगी।

Previous चीनी पुरातत्वविदों ने पानी के नीचे से खोज निकाला विशाल खजाना
Next ग्वाटेमाला जेल में दंगे; 2 की मौत, कई घायल

About author

You might also like

ऑटोमोबाइल 0 Comments

ट्रक चलाने वाले ड्राइवर देंगे रेस ट्रैक को चुनौती

कल तक जो ट्रक ड्राइवर उबड़-खाबड़ सड़को पर ट्रक लेकर चलते थे, उन्होंने कभी ये नहीं सोचा था कि उनके साथ कुछ ऐसा होगा। टाटा मोटर्स ने अपने ट्रक ड्राइवरों

ऑटोमोबाइल 0 Comments

भारतीय कार बाजार में होंगे महिंद्रा SUVs स्कॉर्पियो और XUV500 के इलेक्ट्रिक वैरिएंट

देशभर में अभी तक सर्वाधिक डीजल से चलने वाली गाडियां ही मौजूद है, इसके अलावा पेट्रोल और सीएनजी से भी गाड़ियां चल रही है, लेकिन अब महिंद्रा मोटर्स भारत में

बिज़नेस 0 Comments

अब आई 10 नहीं बनाएगी Hyundai

दक्षिण कोरिया की वाहन कंपनी हुंडई ने अपना लोकप्रिय आई 10 वाहन को भारत से हटाने का फैसला किया है क्योंकि कंपनी अब प्रीमियम और आधुनिक उत्पादों पर ज्यादा जोर

ऑटोमोबाइल 0 Comments

तीन साल बाद सपना हो जाएंगी सस्ती कारें

भारत में अभी विजेता वो है जो सबसे सस्ती कार बेचता है। मारूति सुजुकी ऑल्टो, टाटा नैनो, टाटा टियागो, रेनो क्विड, हुंडई ईयॉन, डैटसन रेडी गो ये वो कारें हैं

ऑटोमोबाइल 0 Comments

2020 तक विश्व में सबसे ज्यादा कार भारत में होगें!

Suzuki मोटर कार्पोरेशन का मानना है कि 2020 तक भारत दुनिया का तीसरा सबसे बड़ा कार बाजार होगा. कंपनी ने कहा है कि वह भारतीय बाजार की वृद्धि में बड़ी

ऑटोमोबाइल 0 Comments

ये टायर हैं बहुत खास, ऐसे रखें इनका ख्याल

भारत में रोजाना सैकड़ों सड़क दुर्घटनाएं होती हैं, लेकिन क्या आपको पता है कि ज्यादातर दुर्घटनाओं का कारण आपकी गाड़ी के टायर होते हैं। हमारे देश में लोग कार या

0 Comments

No Comments Yet!

You can be first to comment this post!

Leave a Reply

Leave a Reply