नोटबंदी और कर्ज के कारण किसानों ने उठाया आत्मघाती कदम : भूपेश बघेल

रायुपर: प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष भूपेश बघेल एवं पूर्व मंत्री धनेश पाटिला तथा कांग्रेस की जांच समिति के सदस्यों के साथ राजनांदगांव जिले के खैरागढ़ ब्लॉक के गांव गोपालपुर तथा पूर्व मंत्री मो. अकबर के साथ कवर्धा जिले के लोहारा ब्लॉक के गांव में जाकर आत्महत्या करने वाले किसानों के पीड़ित परिवार से मुलाकात कर वस्तु स्थिति की जानकारी हासिल किया।

स्व. भूषण गायकवाड़ के परिवार के सदस्यों ने बताया कि नोटबन्दी के बाद लगातार हो रहे नुकसान से उनकी आर्थिक स्थिति खराब हो गयी थी, वे सब्जी उगाते थे घाटा हो रहा था तथा कर्ज का बोझ लगातार बढ़ते जा रहा था, साहूकार का कर्ज भी था इस कारण उन्होंने ने आत्महत्या जैसा दुर्भाग्यजनक कदम उठाया। कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि दोनों ही आत्महत्या करने वाले किसान मुख्यमंत्री के निर्वाचन जिले और गृह जिले के है इस कारण प्रशासन ने मृतकों के परिजनों पर सच्चाई नही बयान करने का दबाव बना रहा है। कवर्धा के रामझुल साहू के घर कुछ नहीं बोलने लगातार पुलिस सरकार और भाजपा के लोग डेरा डाले हुए है। मुख्यमंत्री के गृह जिले में किसानों की बदहाल स्थिति पिछले कई वर्षों से है, पिछले वर्ष भी राजनांदगांव जिले में अनेको किसनो ने आत्महत्या कर लिया था। भारतीय जनता पार्टी की सरकार की प्राथमिकता में किसान और खेती है ही नही। सरकार की योजनाओं के केन्द्रबिंदु में किसानो को राहत और उनकी हालत सुधारने वाले कार्यक्रम है ही नही। लगातार नुकसान और आर्थिक बदहाली के बाद भी सरकार न किसानो को बोनस दे रही और न ही समर्थन मूल्य। कांग्रेस पीड़ित परिवारों को दस-दस लाख मुआवजा देने की मांग करती है।

  • facebook
  • googleplus
  • twitter
  • linkedin
  • linkedin
  • linkedin
Previous «
Next »

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *