बलरामपुर में कृषि और उद्योग मंत्री ने किया सेहत बाजार ’मिलेट कैफे’ का लोकार्पण

Must Read

बलरामपुर : बलरामपुर जिला मुख्यालय में मिलेट कैफे का कृषि मंत्री रविन्द्र चौबे और उद्योग मंत्री कवासी लखमा ने संयुक्त रूप से किया। उद्योग मंत्री ने इस अवसर पर लोगों आग्रह पर मिलेट कैफे में रागी का डोसा बना कर लोगों का दिल जीत लिया। कृषि मंत्री रविन्द्र चौबे ने लोकार्पण कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि बलरामपुर के थालियों में अब स्वाद के साथ-साथ पौष्टिकयुक्त मिलेट भी परोसना शुरू हो जाएगा। उन्होंने सरगुजा संभाग का पहला सेहत बाजार खुलने पर लोगों को बधाई दी।

इस मौके पर मंत्री द्वय चौबे और लखमा ने मिलेट कैफे में तैयार किये गए व्यंजनों का लुप्त उठाया। इस मौके पर मंत्रीगणों ने सुराजी गांव योजना के तहत जिले के बड़कीमहरी में गोबर से निर्मित पेंट यूनिट का लोकार्पण किया। बलरामपुर शहरी गौठान में संचालित इस गोबर पेंट यूनिट में तीन महिला स्व सहायता समूह की 30 महिलाएं शामिल है।

यह भी पढ़ें :-सीएम बघेल दुर्ग ग्रामीण विधानसभा के ग्राम निकुम में आयोजित कार्यक्रम में पहुंचे

इस यूनिट से प्रतिदिन 800 लीटर पेंट का निर्माण होगा। जिले के पहले पेंट यूनिट का गोबर पेंट ग्रीन अर्थ एन्ड ग्रीन फुट पेंट (एएलएफ) के नाम से मार्केट में उपलब्ध रहेगी। गौरतलब है कि बलरामपुर जिला जिला प्रशासन द्वारा लोगों को आकर्षित और मिलेट के प्रति जागरूक करने के उद्देश्य से मिलेट कैफे का नाम सेहत बाजार के रूप में रखा गया है। इसके लिए मंत्री चौबे ने कलेक्टर की प्रशंसा की।

मंत्री चौबे ने कहा कि वर्तमान भागदौड़ भरी जिंदगी में हम सब की थालियों से पौष्टिकता कब गायब होती जा रही है, हमें पता ही नहीं चला रहा है। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की दूरदृष्टि सोच से राज्य सरकार मिलेट मिशन योजना प्रारंभ की है। योजना के तहत बलरामपुर जिले में खोला गया यह सेहत बाजार लोगों के स्वास्थ और सेहत के लिए एक अनुभव पहल है। उद्योग मंत्री कवासी लखमा ने इस मौके पर मिलेट कैफे में रागी का डोसा तैयार कर लोगों का दिल जीत लिया।

बलरामपुर जिले की इस सेहत बाजार की खासियत है कि यहां रागी और कोदो निर्मित रागी का डुस्का, इडली, दही बड़ा, सांभर बड़ा, रागी के लड्डू, रागी के कुकीज, कोदो की खीर व सिंघाड़े का हलवा जैसे व्यंजन उपलब्ध है। सेहत बाजार का संचालन राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन (बिहान) की माँ महामाया महिला स्व सहायता समूह की महिलाओं के द्वारा किया जा रहा है। गौरतलब है कि छत्तीसगढ़ में महिला स्वरोजगार और उद्यमिता को बढ़ावा देने के लिए महिला समूहों के माध्यम से मिलेट्स पर आधारित मिलेट मिशन योजना का क्रियान्वयन किया जा रहा है।

इस अवसर पर संसदीय सचिव, चिंतामणी महाराज, सरगुजा विकास प्राधिकरण के उपाध्यक्ष व रामानुजगंज विधायक बृहस्पत सिह सहित स्थानीय जनप्रतिनिधि और गणमान्य नागरिक उपस्थित थे।

- Advertisement -

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

spot_img

More Articles