CG news : मुख्यमंत्री ग्राम गौरवपथ योजना के तहत् गांव की कच्ची सड़के अब पक्की हो गई

Must Read

CG news : दूरस्थ अंचल क्षेत्रों के दूर-दराज गांव में लोगों आवागमन की सुविधा उपलब्ध कराने के लिए मुख्यमंत्री ग्राम गौरवपथ योजना के तहत् छत्तीसगढ़ की ऐसी समस्त ग्रामीण बस्तियों में सीमेन्ट कॉक्रीट सड़क सह नाली निर्माण कार्य कराया जा रहा है।

छत्तीसगढ़ शासन का उददेश्य है कि ग्राम पंचायत या उसके आश्रित ग्राम जहाँ गलियों में कीचड़ और धूल की समस्याओं रहती है उसका निराकरण किया जा सके और ग्रामीण क्षेत्रों के लोगों को सुविधा दिया जा सके। (CG news)  इसके लिए जिले के कि ग्राम पंचायत या उसके आश्रित ग्रामों में सीमेन्ट कॉक्रीट सड़क सह नाली निर्माण कराकर ग्रामीण जनता को बेहतर आवागमन की सुविधा प्रदान किया जाना है।

CG news : 

इसी कड़ी में मनोरा विकासखण्ड के ग्राम रखरसोता में मुख्य पी.डब्ल्यु.डी. मार्ग से पंचायत भवन तक लंबाई 0.300 किमी सी.सी.सड़क सह नाली निर्माण किया गया है। साथ ही कांसाबेल विकाखण्ड के ग्राम जुमेकेला में मयटोली से बस्ती तक लंबाई 0.200 किमी सी.सी.सड़क सह नाली निर्माण कार्य पूर्ण कर लिया गया है।

उल्लेखनीय है कि वर्ष 2019-20 से 2021-22 तक योजना अंतर्गत कुल 10 ग्राम गौरवपथ सड़कें स्वीकृत है। जिनमें से 7 समस्त सडकें पूर्ण की गई हैं। 3 सड़को में से 2 सड़क का निविदा स्वीकृति प्राप्त कर अनुबंध किया गया। (CG news) अनुबंध पश्चात् कार्य प्रारंभ किया जा रहा है। पूर्ण सड़कों से कुल 07 बसाहटें लाभांवित हुई हैं जिसकी जनसंख्या लगभग 5167 है।

CG news : 

 

ग्रामीण क्षेत्रों में गली गलियारे एवं मुख्य सड़क से ग्राम पहुंचने हेतु सीमेंट कांक्रीट सड़क एवं नाली उपलब्ध कराया गया है। गांवों की गली गलियारों में सीमेंट कांक्रीट सड़कों के होने से बरसात के समय कीचड़ होने की दुविधा से अब मुक्ति मिल गई है।

मुख्य मार्ग से गांव पहुचने तक सी.सी.सड़के होने से चिकित्सा हेतु आने वाले एंबुलेंस अब घर तक पहंुच पाती है। सड़कों की साथ नालियों के बनने से घर के सामने गंदे पानी का जमाव नही होता। (CG news) गंदे पानी के जमाव के कारण होने वाली बीमारी से अब दूरी मिलेगी। जिससे ग्रामीणों को स्वास्थ्य संबंधी एवं अन्य सुविधाओं का लाभ प्राप्त हो रहा है।

- Advertisement -

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

spot_img

RO 12141/ 126

spot_img

RO 12111/ 129

spot_img

RO- 12172/ 127

spot_img

RO - 12027/130

spot_img

RO - 12006/126

spot_img

More Articles