मंगलवार, मई 17, 2022

धान खरीदी का समय सीमा बढ़ाने की मांग,बेमौसम बारिश से बंद रहा धान खरीदी

Must Read

बालोद ब्यूरो चीफ ढालेंद्र कुमार

बालोद । भाजपा किसान मोर्चा प्रदेश कार्यसमिति का वर्चुअल बैठक रखी गई थी।जिसमें प्रदेश कार्यसमिति के सदस्य जिला के अध्यक्ष महामंत्री शामिल हुए। बैठक मे निर्णय लिया गया कि मंगलवार को प्रदेशभर में कलेक्टर को राज्यपाल के नाम ज्ञापन सौप कर धान खरीदी का तिथि बढाने की मांग की जाएगी।

बैठक को संबोधित करते हुए भाजपा के प्रदेश संगठन महामंत्री पवन साय ने कहा है कि राज्य सरकार किसानों के प्रति सजग नहीं है।प्रदेश भर में हुए बेमौसम बारिश ओलावृष्टि से लाखों मेट्रिक टन धान उचित रखरखाव के अभाव में सड़ गया। सोसाइटी से धान का सही समय पर उठाव नहीं होना,राज्य सरकार की लापरवाही है ।

बैठक को संबोधित करते हुए किसान मोर्चा के प्रदेश प्रभारी एवं राष्ट्रीय कार्य समिति के सदस्य संदीप शर्मा ने कहा विगत वर्ष भी हजारों किसान धान बेचने से वंचित रहे। इस वर्ष भी राज्य सरकार के किसान विरोधी नीति के कारण वंचित ना रहे इसके लिए किसान मोर्चा सड़क की लड़ाई लड़ने तैयार है।

बैठक की अध्यक्षता करते हुए किसान मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष श्याम बिहारी जायसवाल ने कहा है कि मौसम विभाग का पूर्वानुमान होने के बाद भी राज्य सरकार धान को बचाने का कोई प्रयास नहीं किया। लाखों मेट्रिक टन धान खुले में रखा रहा और सड़ गया। यह अन्नदाता का घोर अपमान है।

धान खरीदी का मियाद 

बेमौसम बारिश के चलते प्रदेश भर में धान खरीदी बंद रहा। धान खरीदी का मियाद 30 जनवरी को पूरा हो जाएगा। जिससे सभी पंजीकृत किसानों का धान बेच पाना असंभव सा है। भाजपा किसान मोर्चा द्वारा धान खरीदी का तिथि बढ़ाने एवं अतिवृष्टि से किसानों को हुए नुकसान का शीघ्र मुआवजा देने प्रदेशभर में सभी कलेक्टर को राज्यपाल के नाम ज्ञापन सौंपा जाएगा।

बैठक में प्रमुख रूप से प्रदेश मंत्री पवन साहू जिला जिलाध्यक्ष तोमन साहू प्रदेश कार्यसमिति सदस्य सुमित साहू चेमन देशमुख पुष्पेंद्र चंद्राकर जिला महामंत्री द्वाय मनोहर सिन्हा हेमंत साहू उपस्थित थे। बैठक का संचालन प्रदेश महामंत्री द्वारिकेश पांडेय ने किया। आभार प्रदर्शन युधिष्ठिर चंद्राकर ने किया। उपरोक्त जानकारी प्रदेश मीडिया प्रभारी अनिल साहू ने दी।

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Related News