चुनाव प्रचार के बावजूद विष्णुदेव साय ने मेरे घर पूजा के लिए निकाला था वक्त, पंडित जी ने पूजा के बाद उन्हें मुख्यमंत्री बनने का आशीर्वाद दिया था

Must Read

रायपुर, 12 दिसंबर 2023 : मुख्यमंत्री विष्णु देव साय का व्यक्तित्व बहुत ही सहज-सरल है। लोगों के सुख-दुख में शामिल होना और उनकी हर संभव मदद करना उनके स्वभाव में है। सबसे खास बात यह है कि वे बहुत धार्मिक प्रवृत्ति के हैं।

हाल ही में मेरे घर पर सत्यनारायण व्रत कथा का आयोजन था। इस कथा में जब मैंने विष्णु देव साय को आमंत्रित किया तो उन्होंने सहज ही आने के लिए सहमति दी। हालांकि चुनाव प्रचार के व्यस्त कार्यक्रम में उनका आना बहुत मुश्किल था। फिर भी वह हमारे घर आए और सत्यनारायण भगवान का आशीर्वाद लिया।

इसे भी पढ़ें :-Rajasthan : दीया कुमारी और प्रेम चंद बैरवा होंगे राजस्थान के डिप्टी सीएम

यह बात सुरेश साय ने कही। वे मुख्यमंत्री के गांव बंदरचुआ से अपने बहुत से साथियों को लेकर मुख्यमंत्री को बधाई देने पहुना पहुंचे थे। साय ने बताया कि पूजा के पश्चात पंडित जी ने साय को विधायक के रूप में विजय का आशीर्वाद दिया।

साथ ही उन्होंने कहा कि इस बात आप मुख्यमंत्री बनकर भी प्रदेश की सेवा करें। जिस दिन विष्णु देव साय को छत्तीसगढ़ के नए मुख्यमंत्री बनाए जाने की खबर मुझे मिली तो मुझे लगा कि कितना सुंदर संयोग हमारे घर में हुआ जो आशीर्वाद के रूप में फलीभूत हो गया । इसीलिए मैं आज रायपुर मुख्यमंत्री को बधाई देने आया हूं।

इसे भी पढ़ें :-बिग ब्रेकिंग : भजन लाल शर्मा होंगे राजस्थान के मुख्यमंत्री…जानिए कितने पढ़े लिखे हैं CM

उल्लेखनीय है कि मुख्यमंत्री के रूप में अपने गांव के ही एक बेटे की नियुक्ति से ग्रामीण इतने खुश हैं कि आज ही 500 लोग बंदरचुआ और बगिया से आये। उन्होंने कहा कि हम लोग जशपुर से ही लगभग हजार लोगों को देख चुके हैं। इतनी खुशी हैं कि हम लोग बयां नहीं कर सकते।

कुनकुरी से आये नवीन अग्रवाल ने बताया कि मुख्यमंत्री की घोषणा होने से तीन दिन पूर्व ही साय एक विवाह समारोह में शामिल होने कुनकुरी पहुंचे थे और लगभग दो घंटे वहां रूककर सबके साथ उन्होंने दुखसुख साझा किया है। कुनकुरी से हम लोग बड़ी संख्या में उनसे मिलने आये हैं और अपनी खुशी व्यक्त कर रहे हैं।

मैनी नदी पर बनी पुलिया का मिला लाभ पूरे क्षेत्र को लाभ

बंदरचुआ से मुख्यमंत्री को बधाई देने आए लोगों ने बताया कि साय सतत क्षेत्र के विकास में लगे रहते हैं। उनके प्रयासों से ही गांव के पास से बहने वाली मैनी नदी पर पुलिया निर्माण हुआ है। पुलिया बनने से लोगों को आवागमन में बहुत सुविधा हुई है। पहले नदी पर पुलिया ना होने से क्षेत्र वासियों को बहुत दिक्कत का सामना करना पड़ता था। मैनी नदी में तटबंध निर्माण से कटाव घटा और खेती की जमीन काफी बच गई, नहीं तो काफी जमीन कट जाती।

पंच से मुख्यमंत्री के सफर के पीछे है साय का सरल और सहृदय व्यवहार

बन्दरचुआ ग्रामवासियों ने बताया कि विष्णु देव साय ने पंच से मुख्यमंत्री का सफर तय किया है। इस सफर के पीछे उनका सरल और सहृदय व्यवहार है। पंच, विधायक, सांसद, केंद्रीय मंत्री जैसे अनेक महत्वपूर्ण पदों पर रहे साय आज भी जमीन से जुड़े हुए हैं। वे लोगों के हर सुख-दुख में शामिल होते हैं। उनका मिलनसार स्वभाव उन्हें लोकप्रिय बनाता है। आम जन अपनी छोटी-बड़ी समस्याओं को लेकर बेझिझक उनके पास पहुँचते हैं, जिनका वे निदान करते हैं।

इस अवसर पर कमल भगत, अनिल सिंह, सुरेश कुमार, रितेश सोनी, मनखुश साय, अशोक यादव, संजीव भगत, उमेश यादव, देव कुमार यादव सहित ग्राम बन्दरचुआ के अनेक निवासी उपस्थित रहे।

- Advertisement -

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

spot_img

More Articles