ओमान में भारतीय नागरिक की मौत पर फूटा परिजनों का गुस्सा, AISATS के बाहर शव रखकर प्रदर्शन..मांगा मुआवजा

Must Read

नई दिल्ली : ओमान में भारतीय नागरिक की मौत के बाद मृतक के परिजनों विरोध प्रदर्शन कर मुआवजे की मांग की है। परिजनों ने शव को एआईएसएटीएस (AISATS) कार्यालय के बाहर रखकर प्रदर्शन किया। बता दें कि 13 मई को ओमान के अस्पताल के आईसीयू में भर्ती एक भारतीय व्यक्ति की मौत हो गई थी। परिवार ने आरोप लगाया था कि अगर एयर इंडिया एक्सप्रेस की उड़ान रद्द नहीं होती तो उनकी पत्नी अपने पति की मौत से पहले उनसे मिल सकती थी।

इसे भी पढ़ें :-Chhattisgarh: तेन्दूपत्ता तोड़ रहे ग्रामीण पर जंगली सूअर का हमला, मौत…

एआईएसएटीएस (AISATS) कार्यालय के बाहर शव रखकर प्रदर्शन

परिजनों ने आरोप लगाया कि एयर इंडिया एक्सप्रेस के चालक दल की हड़ताल की वजह से बार बार उड़ानें रद्द की हो रही थीं। इस वजह से मृतक की पत्नी अपने पति से मिलने नहीं जा सकीं। मृतक के ससुर ने दावा किया कि अगर उनकी बेटी को ओमान जाने दिया जाता, तो शायद मौत को रोका जा सकता था। मृतक के शव को केरल लाया गया और इसके तुरंत बाद परिजन शव को एयर इंडिया सेट्स प्राइवेट लिमिटेड (एआईएसएटीएस) के कार्यालय के बाहर पहुंचे। परिजनों ने कार्यालय के बाहर शव रखकर शांतिपूर्ण प्रदर्शन किया।

इसे भी पढ़ें :-Lok Sabha Elections 2024 : अमित शाह ने ममता बनर्जी को बताया हिरक रानी…लगाया राज्य में हिंसा का आरोप

मृतक के सुसर ने आरोप लगाया कि एयरलाइन की उदासीनता की वजह से उनके दामाद की मौत हुई है। उन्होंने मुआवजे की मांग करते हुए कहा कि एयर इंडिया एक्सप्रेस को इस पर जवाब देना होगा। मृतक के ससुर ने कहा ‘एयर इंडिया एक्सप्रेस को मेरी बेटी और मेरे नातियों का ध्यान रखने के लिए हमें मुआवजा देना होगा। जब तक इस पर कोई फैसला नहीं हुआ, मैं यहां से कहीं नहीं जाऊंगा।’ इसके बाद एयर इंडिया एक्सप्रेस के अधिकारी मौके पर पहुंचे और पुलिस की मौजूदगी में परिजनों से बातचीत की। वार्ता के बाद विरोध प्रदर्शन समाप्त किया गया और शव को अंतिम संस्कार के लिए ले जाया गया।

इसे भी पढ़ें :-Chhattisgarh: करंट की चपेट में आने से युवक की मौत, एक महिला घायल…

जानिए क्या है पूरा मामला?

अमृता नाम की महिला ने मस्कट में अपने पति से मिलने के लिए आठ मई का टिकट बुक कराया था, लेकिन यहां हवाई अड्डे पहुंचने पर उसे बताया गया कि उड़ान रद्द हो गई है। हवाई अड्डे पर इसका विरोध करने पर उन्हें अगले दिन एयर इंडिया एक्सप्रेस की एक अन्य उड़ान का टिकट दिया गया, लेकिन दुर्भाग्य से, उसे भी रद्द कर दिया गया और उन्हें अपनी यात्रा की योजना पूरी तरह से छोड़नी पड़ी। सोमवार को ओमान से उनके पति की मौत की खबर उनके पास पहुंची।

- Advertisement -

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

spot_img

More Articles