Gang Rape: हाथों में पोस्टर लेकर युवती ने लगाई इंसाफ की गुहार, सुनाई आपबीती

Must Read

Gang Rape: अपने हाथों में पोस्टर लिए युवती अपने साथ हुए अन्याय का इंसाफ मांग रही है. युवती का आरोप है कि उसके साथ गैंगरेप हुआ और इस मामले में नोएडा पुलिस द्वारा आरोपियों की अभी तक गिरफ्तारी नहीं हुई है.

गिरफ्तारी की मांग को लेकर अपने हाथ में पोस्टर लिए हुए पुलिस कमिश्नर दफ्तर पहुंची और इंसाफ मांग रही है. लेकिन नोएडा पुलिस द्वारा अभी तक आरोपियों की गिरफ्तारी नहीं हुई है. इस मामले पर पुलिस अधिकारी कैमरे पर कुछ भी बोलने पर तैयार नहीं है.

Gang Rape: तीन वकील और एक मुंशी पर आरोप

फरीदाबाद की रहने वाली एक युवती ने नोएडा के रहने वाले 3 वकील महेश, विकास, देवेंद्र और एक मुंशी पर गैंगरेप का आरोप लगाया है. युवती का आरोप है कि वह 6 मई साल 2021 के दिन इन तीनों वकीलों से मिली थी.

उसका कहना है कि उसके पति का लॉकडाउन में नोएडा में चालान कट गया था और इस चालान को छुटाने के लिए इन वकीलों से मदद मांगी थी. युवती का आरोप है कि इन वकीलों ने जमानती दिलवाने के नाम पर सेक्टर 2 में स्थित एक अधूरे बने मकान की दूसरी मंजिल पर ले गए और वहां पर कोल्ड डिंक में नशीला पदार्थ मिलाकर बेहोश कर दिया और बारी-बारी रेप किया.

Gang Rape: नहीं हुई महिला की सुनवाई

घटना के बाद पीड़िता को इन्हीं आरोपियों ने फरीदाबाद के गोल चक्कर पर छोड़ा. उसके बाद युवती ने फरीदाबाद बल्लभगढ़ थाने में 0 FIR दर्ज कराई. फरीदाबाद से प्रार्थना पत्र नोएडा सेक्टर 20 कोतवाली आ गया जिसके बाद पीड़िता थाने गई, लेकिन थाने में उसकी सुनवाई नहीं हुई.

पीड़िता का आरोप है कि नोएडा पुलिस गैंगरेप के आरोपियों की गिरफ्तारी नहीं कर रही है. जब कि बल्लभगढ़ थाने की पुलिस ने आरोपी मुंशी को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है लेकिन बाकी के आरोपियों की गिरफ्तारी नहीं हो सकी है जिसको लेकर पीड़िता आरोपियों की गिरफ्तारी को लेकर पुलिस अधिकारियों के दफ्तरों के चक्कर काट रही है.

Gang Rape: आत्मदाह की दी धमकी

इसलिए अब नोएडा सेक्टर 108 कमिश्नर ऑफिस में ये युवती पोस्टर, बैनर हाथ में लेकर इंसाफ की गुहार लगाती दिखाई दी. पीड़िता ने मीडिया से बात करते हुए बताया कि वह अपनी इंसाफ के लिए काफी समय से दर-बदर भटक रही है. महिलाने इंसाफ न मिलने पर आत्मदाह करने की धमकी दी है.

Gang Rape:पुलिस नहीं कर रही बात

इस मामले पर ZEE NEWS ने महिला डीसीपी वृंदा शुक्ला से ऑन कैमरा बात करने की कोशिश की लेकिन उन्होंने इस पूरे मामले पर ऑन कैमरा बात करने से इंकार कर दिया. ऑफ द कैमरा डीसीपी महिला वृंदा शुक्ला ने बताया कि इस मामले पर अभी जांच चल रही है और जांच के बाद ही कोई कार्रवाई होगी

- Advertisement -

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

RO 12276/ 120

spot_img

RO 12242/ 175

spot_img

RO- 12172/ 127

spot_img

RO - 12027/130

spot_img

More Articles