Maharashtra: हनुमान चालीसा पर राजनीति गर्म ,नवनीत राणा के घर के बाहर जमकर हंगामा

Must Read

हनुमान चालीसा और लाउडस्पीकर पर महाराष्ट्र में राजनीति बढ़ती जा रही है। राज्य में मनसे चीफ राज ठाकरे द्वारा शुरू किए गए हनुमान चालीसा विवाद में अब निर्दलीय सांसद नवनीत राणा भी कूद गईं हैं और यह लड़ाई अब उद्ध ठाकरे के घर मातोश्री तक पहुंच गई है। दरअसल, अमरावती से सांसद नवनीत राणा ने आज मातोश्री के बाहर हनुमान चालीसा का पाठ करने का ऐलान किया है। उनके इस ऐलान के बाद महाराष्ट्र में सियासी पारा एक बार फिर बढ़ गया है। इस ऐलान के बाद गुस्साए शिवसेना कार्यकर्ताओं ने शनिवार सुबह नवनीत राणा के घर के बाहर खूब हंगामा किया और कार्यकर्ता बैरिकेड तोड़कर अंदर घुस गए।

बता दें कि नवनीत राना ने आज सुबह 9 बजे मातोश्री के बाहर हनुमान चालीसा पाठ शुरू करने का ऐलान किया था। वहीं, इस विवाद के बाद खतरे को देखते हुए केंद्र सरकार ने नवनीत राणा को कैटेगरी की सुरक्षा प्रदान की है।

निर्दलीय सांसद नवनीत राणा ने कहा, हमें परेशान किया जा रहा है, मेरा सवाल है कि शिवसेना बैरिकेड्स तोड़ कर गेट के अंदर कैसे आ गए ? मैं नीचे जाऊंगी और गेट के बाहर भी जाऊंगी और मातोश्री के बाहर हनुमान चालीसा का पाठ भी करूंगी। हमें कोई नहीं रोक सकता। सीएम लोगों को सिर्फ जेल में डालना जानते हैं।

निर्दलीय विधायक रवि राणा ने कहा कि ये बाला साहेब के सदस्य नहीं हैं क्योंकि अगर होते तो वो हमारे साथ हनुमान चालीसा पढ़ते। सीएम महाराष्ट्र में अपने पावर का दुरुपयोग कर रहे हैं। शिवसेना हमारे घर में घुसकर हम पर हमला करने की कोशिश कर रहे हैं। अगर हम सुरक्षित नहीं है तो आम जनता कैसी सुरक्षित रहेगी।

उन्होंने कहा कि वो लोग हमें पुलिस द्वारा रोकने की कोशिश कर रहे हैं, पुलिस हमें बाहर निकलने नहीं दे रही है। महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री ने पुलिस को निर्देश दिया है और शिवसेना गुंडागर्दी कर हम पर हमला कर रही है। उनकी दादागिरी और गुंडागर्दी पूरा महाराष्ट्र देख रहा है।

बताया जा रहा है कि मातोश्री के बाहर हनुमान चालीसा का पाठ करने के ऐलान के बाद सांसद नवनीत राणा को मुंबई पुलिस ने एक नोटिस भी भेजा। इस नोटिस में सीएम उद्धव ठाकरे के घर के बाहर हनुमान चालीसा के पाठ से मनाही की गई है। मुंबई पुलिस ने यह साफ किया है कि अगर रवि राणा या नवनीत राणा अपने घर से बाहर निकलने की कोशिश करेंगे तो उन्हें बाहर नहीं जाने दिया जाएगा। अगर उन्होंने जोर-जबरदस्ती की तो पुलिस कार्रवाई करेगी।

- Advertisement -

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

spot_img

RO 12141/ 126

spot_img

RO 12111/ 129

spot_img

RO- 12172/ 127

spot_img

RO - 12027/130

spot_img

RO - 12006/126

spot_img

More Articles