Mahasamund: छबिराम और तिलक को मिली मोटराइज्ड ट्राई साइकिल

Must Read

Mahasamund: महासमुंद विकासखण्ड के ग्राम बेलटुकरी और लभरा खुर्द के दिव्यांग छबिराम पटेल और कार्तिक राम ढीमर को कलेक्टर निलेशकुमार क्षीरसागर ने मोटराइज्ड ट्राई साइकिल सौंपी। कलेक्ट्रेट परिसर में उन्हें जन चौपाल के उपरांत मोटराइज्ड ट्राई साइकिल (बैटरी चलित) की चाबी सौंपी।

कलेक्टर ने दोनों से चर्चा कर उनके कामकाज के बारे में भी जानकारी ली। उन्होंने दोनों दिव्यांगों को जरूरत और आवश्यकता मुताबिक मोटराइज्ड ट्राई साइकिल का तकनीकी ज्ञान और प्रशिक्षण देने कहा तथा समय-समय पर बैटरी चार्ज और अन्य तकनीक के बारे में जानकारी लेने की बात भी कही।

Mahasamund: कलेक्टर के हाथ से ट्राई साइकिल पाकर

कलेक्टर के हाथ से ट्राई साइकिल पाकर वे दोनों बहुत खुश हैं। उन्होंने बताया कि अब वह अपने गांव में कहीं भी आ जा सकते है। पहले आने-जाने के लिए परिजन या किसी व्यक्ति का सहारा लेना पड़ता था। उन्होंने बताया कि अपने हिसाब से वे जल्द ही कोई कामकाज करेंगे।

छबिराम पटेल ने बताया कि वे गांव में साग-सब्जी की दुकान लगाते है। इसी तरह कार्तिक राम ढीमर ने बताया कि वे पान ठेला सहित छोटा सा किराना दुकान चलाकर अपनी आजीविका में लगे हुए है। मोटराईज्ड ट्रायसायकल मिल जाने से अब उन्हें आसानी से अपनी आर्थिक स्थिति में अधिक सुधार करेंगे और अपने पैरों पर खड़ा होंगे।

Mahasamund: उप संचालक समाज कल्याण संगीता ने बताया 

उप संचालक समाज कल्याण संगीता ने बताया कि बहुत पहले दोनों दिव्यांग 80 प्रतिशत से अधिक दिव्यांग हैं, इसलिए ऑटोमेटिक ट्रायसायकल समाज कल्याण विभाग द्वारा दी गई है। ताकि वे अपने रोजमर्रा के काम सरलता से कर सकें। उन्होंने बताया कि मोटराइज्ड ट्राई साइकिल (बैटरी चलित) आज कलेक्टर के हाथों से उपलब्ध करायी गयी है ताकि ये अपना रोजगार कर अपना जीवन यापन कर सकें।

- Advertisement -

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

spot_img

More Articles