बेंगलुरु में बड़ा हादसा : निर्माणाधीन मेट्रो पिलर गिरा, दो की दर्दनाक मौत,कर्नाटक कांग्रेस ने साधा निशाना

Must Read

बेंगलुरु : कर्नाटक की राजधानी बेंगलुरु से एक बड़े हादसे की जानकरी सामने आई है। दरअसल यहां के आउटर रिंग रोड में निर्माणाधीन मेट्रो का पिलर गिरने से एक महिला और उसके ढाई साल के बेटे की दर्दनाक मौत हो गई। पुलिस के मुताबिक घटना सुबह करीब 11 बजे की है, जब पिलर निर्माण के लिए लगाया गया टीएमटी सरिया उनके स्कूटर पर गिर गया। खंभे की ऊंचाई 40 फीट से ज्यादा और वजन कई टन बताया जा रहा है। आसपास के लोगों ने मृतकों को तुरंत नजदीकी अस्पताल पहुंचाया।

Joshimath : जोशीमठ में कुछ देर में ढहाए जाएंगे होटल…अब तक कुल 678 भवन चिह्नित

वहीँ पुलिस ने कहा कि उन्होंने मामला दर्ज कर लिया है और आगे की जांच की जाएगी। इस घटना के कारण मार्ग पर कुछ देर के लिए जाम लग गया। वहीं, मृतक महिला के ससुर विजयकुमार ने कहा कि मेट्रो पिलर के निर्माण के दौरान सुरक्षा उपाय नहीं किए गए। घटना स्थल पर निर्माण कार्य तत्काल बंद किया जाना चाहिए।

वहीँ बेंगलुरु मेट्रो रेल कॉरपोरेशन लिमिटेड (बीएमआरसीएल) के एमडी अंजुम परवेज ने कहा कि पिलर गिरने से महिला और उसका बच्चा बुरी तरह घायल हो गए, बाद में उनकी मौत हो गई। यह बहुत ही दुर्भाग्यपूर्ण घटना है। पीड़ित परिवार को 20 लाख रुपये की अनुग्रह राशि दी जाएगी।

भारत जोड़ो यात्रा : श्री हरमंदिर साहिब में माथा टेक लौटे राहुल गांधी

उन्होंने आगे कहा कि हम निर्माण में उच्चतम गुणवत्ता मानकों का पालन करते हैं। मामले की विस्तृत जांच की जाएगी। हम देखेंगे कि यह तकनीकी खामी थी या मानवीय। उन्होंने कहा कि ऐसी घटनाओं की पुनरावृत्ति न हो इसके लिए कदम उठाए जाएंगे।

वहीँ कर्नाटक कांग्रेस अध्यक्ष डीके शिवकुमार ने कहा कि बेंगलुरु में मेट्रो का पिलर ढह गया | यह ‘40% कमीशन’ सरकार का नतीजा है। विकास कार्यों में कोई गुणवत्ता नहीं है। लोगों का इस सरकार पर से भरोसा उठते जा रहा है। हर जगह भ्रष्टाचार है।

वहीं, कांग्रेस विधायक सौम्या रेड्डी ने मेट्रो का निर्माणाधीन पिलर गिरने से महिला और बच्चे की मौत होने पर दुख जताया। उन्होंने कहा कि अब तक गड्ढों की चपेट में आकर लोगों की मौत होती थी, लेकिन अब पिलर टूट रहे हैं। यह भाजपा सरकार की लापरवाही और भ्रष्टाचार का स्पष्ट मामला है। कांग्रेस विधायक ने मांग की कि कर्नाटक के मुख्यमंत्री को इस्तीफा देना चाहिए। यह कार्य में कमी का स्पष्ट मामला है और लोग इसके शिकार हुए हैं।

- Advertisement -

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

RO 12276/ 120

spot_img

RO 12242/ 175

spot_img

RO- 12172/ 127

spot_img

RO - 12027/130

spot_img

More Articles