शासकीय दूधाधारी बजरंग महिला महाविद्यालय में नवप्रवेशित छात्राओं के लिए इंडक्शन कार्यक्रम का आयोजन

Must Read

रायपुर : शासकीय दूधाधारी बजरंग महिला महाविद्यालय में नवप्रवेशित छात्राओं के लिए इंडक्शन कार्यक्रम का आयोजन किया गया। इस दीक्षारंभ में छात्राओं को महाविद्यालय के समग्र परिवेश और संरचना से परिचय करवाया गया।

प्राचार्य डॉ किरण गजपाल ने महाविद्यालय का परिचय देते हुए बताया कि नैक मूल्यांकन में महाविद्यालय को B++ ग्रेड मिला है, यहां इंडोर स्टेडियम है और छत्तीसगढ़ का सबसे प्राचीन और बड़ा महिला महाविद्यालय है जहां चार हॉस्टल हैं। यहां प्रतिदिन छात्रहित में कोई न कोई आयोजन किया जाता है। यहां 25 प्राध्यापक यहीं के विद्यार्थी रहे हैं। आप के सर्वांगीण विकास की सभी सुविधाएं यहां उपलब्ध है उसका लाभ लीजिए और देश का नाम रौशन कीजिए।

नशावृत्ति पर अंकुश लगाना ज़रूरी-कलेक्टर पी.एस.एल्मा

उन्होंने बताया कि चार वर्षीय नवीन पाठ्यक्रम हमारे महाविद्यालय में संचालित हो रहे हैं । सेमेस्टर प्रणाली के अंतर्गत कुल छः सेमेस्टर होंगे। Iqac प्रभारी व कार्यक्रम की समन्वयक उषाकिरण अग्रवाल ने सभी का स्वागत करते हुए कहा कि महाविद्यालय में प्रवेश लेकर आप सबने एक नई यात्रा प्रारंभ की है। महाविद्यालय के तीन आधार स्तंभ होते हैं

अधोसंरचना,प्राध्यापक और स्टूडेंट्स । शिष्यों पर सदैव गुरु को मान होता है। शिक्षा का उद्देश्य है अंधकार से प्रकाश की ओर जाना। शिक्षक हमें सद्गुणों से युक्त बनाकर परिष्कृत करता है।
समाजशास्त्र की विभागाध्यक्ष डॉ श्रद्धा गिरोलकर ने समाजशास्त्र विभाग का परिचय दिया।

कला संकाय से डॉ सविता मिश्रा मैडम ने हिंदी का,डॉ स्वप्निल कर्महे ने नृत्य और संगीत विभाग का, डॉ जया तिवारी ने अंग्रेजी विभाग का, डॉ प्रीति कंसारा ने अर्थशास्त्र का,डॉ सीमा खान ने राजनीति विज्ञान विभाग का,डॉ शंपा चौबे ने इतिहास विभाग का,डॉ रिचा शर्मा ने मनोविज्ञान विभाग का,डॉ शीला श्रीधर ने भूगोल विभाग का परिचय दिया।

डॉ रश्मि मिंज ने गृहविज्ञान संकाय का परिचय दिया और बताया कि इसमें तीन विषयों में स्नातकोत्तर की सुविधा है। डॉ अभया जोगलेकर ने स्वायत्तशासी प्रकोष्ठ का परिचय दिया व महाविद्यालय की परीक्षा प्रणाली पर प्रकाश डाला। डॉ रितु मारवाह ने वाणिज्य संकाय का परिचय दिया।
मंच संचालन डॉ गौतमी भतपहरी ने किया।

ग्रन्थालय का परिचय ग्रंथपाल डॉ संध्या ठाकुर ने दिया। बड़ी संख्या में प्रथम वर्ष स्नातक की छात्राएं उपस्थित थीं। पूजा झा ने गीत प्रस्तुत किया। धन्यवाद ज्ञापन डॉ नीतू हरमुख ने दिया।

- Advertisement -

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

Ro 12338/134

spot_img

RO-12294/ 120

spot_img

RO 12276/ 120

spot_img

RO 12242/ 175

spot_img

More Articles