राष्ट्रपति जो बाइडन ने पेश किया बंदूक नीति बदलने का खाका, जानें सबकुछ

Must Read

वॉशिंगटन. अमेरिका में पिछले कुछ बरसों में ताबड़तोड़ गोलीबारी की घटनाओं की बाढ़-सी आ गई है. इसके लिए देश में बंदूक खरीदने और रखने की आसान शर्तों को जिम्मेदार बताया जाता रहा है. अमेरिका के इस गन कल्चर पर पाबंदियों की मांग लंबे समय से होती रही है. अब राष्ट्रपति जो बाइडन ने बंदूकबाजी की घटनाओं पर प्रभावी रोक लगाने के लिए कई प्रस्ताव पेश किए हैं.

उन्होंने अमेरिकी संसद कांग्रेस से अपील की है कि वह असॉल्ट गन और उच्च क्षमता वाली मैगजीन की बिक्री पर बैन लगाए. अगर ऐसा करना मुमकिन न हो तो गन खरीदने की उम्र 18 साल से बढ़ाकर 21 साल कर दी जाए. उन्होंने बंदूक रखने वालों और बनाने वालों की जवाबदेही तय करने पर जोर दिया. साथ ही, स्कूली स्टूडेंट्स में मेंटल हेल्थ की समस्याओं को दूर करने के लिए काउंसलर नियुक्त करने की भी बात कही.

अमेरिका में अंधाधुंध गोलीबारी की घटनाओं में पिछले कुछ समय में तेजी से इजाफा हुआ है. एनपीआर डॉट ऑर्ग ने गन वॉयलेंस आर्काइव के हवाले से बताया कि इस साल 2022 में अब तक मास शूटिंग की 233 वारदातें हो चुकी हैं. सबसे ताजा घटना ओक्लाहोमा के तुलसा में बुधवार को हुई. यहां एक युवक ने अस्पताल परिसर में ताबड़तोड़ गोलियां बरसा दीं, जिससे चार लोगों की मौत हो गई.

बाद में हमलावर ने खुद को भी गोली मार ली. इससे पहले 24 मई को टेक्सास के एक एलिमेंटरी स्कूल में एक शख्स ने मासूम बच्चों और टीचरों पर अंधाधुंध गोलियां बरसाई थीं, जिसमें 19 छोटे बच्चों और 2 टीचरों की मौत हो गई थी. इससे 10 दिन पहले 14 मई को न्यूयॉर्क के बफैलो में एक ग्रॉसरी स्टोर में एक बंदूकधारी ने 10 लोगों की हत्या कर दी थी.

- Advertisement -

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

spot_img

More Articles