RAIPUR: कोरोना के नए वैरिएंट XE को लेकर छत्तीसगढ़ में अलर्ट

Must Read

RAIPUR: छत्‍तीसगढ़ में कोरोना मरीजों की पहचान के लिए रोजाना औसतन 40 हजार सैंपल जांच का लक्ष्य तय है। लेकिन, वर्तमान में 4,674 सैंपल जांचे ही हो रही है। सैंपल जांच नहीं होने से संक्रमण के मामले सामने नहीं आ रहे हैं। एक से 22 अप्रैल तक राज्य में 1,02,846 सैंपल की जांच की गई है। स्वास्थ्य विभाग के लक्ष्य के अनुसार, इस माह 8.80 लाख कोरोना सैंपलों की जांच हो जानी थी। Season: छत्तीसगढ़ में कई जगहों में बारिश के आसार

RAIPUR:स्वास्थ्य विभाग गंभीर


बावजूद, स्थिति यह है कि केंद्रों में सैंपल जांच को लेकर स्वास्थ्य विभाग गंभीर नजर नहीं आ रहा है। इधर, अधिकारियों का कहना है कि कोरोना के नए वैरिएंट एक्स-ई को लेकर स्वास्थ्य विभाग ने अलर्ट जारी किया है। साथ ही सभी जिलों में लक्ष्य के अनुसार जांच के निर्देश दिए हैं।

RAIPUR: 4,500 सैंपल जांच का लक्ष्य


रायपुर जिले में 4,500 सैंपल जांच का लक्ष्य है लेकिन सिर्फ 150 ही हो पा रही है। सीएमएचओ डाक्टर मीरा बघेल का कहना है कि जांच केंद्रों में लोग कम आ रहे हैं। पाजिटिव केस की संख्या भी बेहद कम या ना के बराबर है। पहले पाजिटिव केस आने के बाद उनके संपर्क में आने वाले लोगों के सैंपल जांच होते थे, जिससे केस ज्यादा आते थे।

RAIPUR:राज्यों में कोरोना


दिल्ली समेत अन्य राज्यों में कोरोना के बढ़ते केस को देखते हुए कोरोना के नए वैरिएंट एक्सई को लेकर छत्तीसगढ़ में अलर्ट जारी कर दिया गया है। चिकित्सकों का कहना है कि एक्सई वैरिएंट ओमिक्रान का ही सब-वैरिएंट है। इसके लक्षण भी ओमिक्रान वैरिएंट के लक्षणों से बहुत मिलते-जुलते हैं। इसमें हल्का बुखार होना, शरीर में दर्द होना, थकान महसूस करना, सिरदर्द, दिल की धड़कन तेज होना तथा सूंघने की क्षमता कम होना आदि लक्षण नजर आ सकते हैं।

- Advertisement -

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

spot_img

More Articles