गुरूवार, मई 19, 2022

RAIPUR : स्कूल रेडिनेस कार्यक्रम के तहत शिक्षकों को प्रशिक्षण

Must Read

RAIPUR : 15 मार्च 2022 बच्चों को प्री स्कूल या बालवाड़ी से कक्षा पहली में जाएंगे, तो वह पढ़ाई-लिखाई करने की स्थिति में होनी चाहिए। ऐसी स्थिति में बच्चों को खेल-खेल में शिक्षा के माध्यम से औपचारिक शिक्षा से जोड़ा जाना जरूरी है। बलरामपुर : शिक्षकों का ऑनलाईन शून्य निवेश नवाचार प्रशिक्षण सम्पन्न

RAIPUR :प्रशिक्षण में सिखायी गई बातों

स्कूल शिक्षा विभाग के विशेष सचिव एवं राज्य शैक्षिक अनुसंधान एवं प्रशिक्षण परिषद (एससीईआरटी) के संचालक के संचालक श्री राजेश सिंह राणा ने स्कूल रेडिनेस के पाँच दिवसीय प्रशिक्षण के समापन अवसर पर उपस्थित प्रशिक्षणार्थीयों से कहा कि इस प्रशिक्षण में सिखायी गई बातों को शिक्षकों तक पहुँचाना है। आने वाले समय में हमें आशा रहनी चाहिए कि इसका असर हर गाँव, हर बच्चे तक दिखेगा।

RAIPUR : बुनियादी शिक्षा देना जरूरी


उन्होंने कहा कि इस विषय की संवेदनशीलता बहुत गहरी है। जब हम बच्चों को प्राथमिक शिक्षा देते हैं, बच्चे आंगनबाड़ी से स्कूल में आता है तो वो स्कूल में आने के बाद कई बच्चे एडाप्ट कर लेते है, कई बच्चे नहीं कर पाते है।

श्री राणा ने कहा कि हमारा उद्देश्य रहना चाहिए कि हम अधिक से अधिक बच्चे को समावेशी शिक्षा में ले जाने के लिए इस पाठ्यक्रम का उपयोग करेंगे। बच्चों के साथ घुल मिलकर उनको शिक्षा पद्धति के बारे में बताना जरूरी है। बच्चों को बुनियादी शिक्षा देना जरूरी है। नई शिक्षा नीति-2020 में इन बातों पर विशेष ध्यान रखा गया है।

RAIPUR : ईवेट स्कूलों


जिस प्रकार प्राईवेट स्कूलों में यह कॉन्सेप्ट है कि बच्चों को शिक्षा की मुख्यधारा में आने के लिए हम उनकी रूचि को और उनको शिक्षा के प्रति एक सामान्य आधार तैयार करें। उन्होंने कहा कि पूरे जीवन भर बच्चे क्या करेंगे, कैसे करेंगे किस विद्या में पारंगत होंगे यही वह पहला साल है वही निर्धारित करेगा। यदि बच्चे में कोई विशेष गुण है तो उसे पहचानने का कार्य इन्ही तीन महीनों में करना होगा।

उन्होंने उम्मीद जताई कि पाँच दिनों के प्रशिक्षण का लाभ आने वाले सत्र में बच्चों को मिलेगा, इस जिम्मेदारी को संवेदनशीलता से निभाएं। प्रशिक्षण कार्यक्रम को एससीईआरटी के अतिरिक्त संचालक डॉ.योगेश शिवहरे ने भी सम्बोधित किया। कार्यक्रम का संचालन श्री सुनील मिश्रा और आभार प्रदर्शन प्रकोष्ठ प्रभारी डॉ. जयाभारती चंद्राकर ने किया।

RAIPUR : प्रथम फाउन्डेशन


इस समापन अवसर पर राज्य साक्षरता मिशन प्राधिकरण के सहायक संचालक प्रशांत कुमार पाण्डेय, असिस्टेंट प्रोफेसर विद्या चंद्राकर, अजीम प्रेमजी फाउन्डेशन के लोकेश दास, सीएलआर के योगेश चंद्राकर, एलएलएफ से मीना कुमारी एवं प्रथम फाउन्डेशन से हितेश सांग सहित सभी जिलों के प्रतिभागी उपस्थित थे।

1 टिप्पणी

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Related News