RAIPUR: निरोग और स्वस्थ जीवनशैली का आधार है योग :अनिला भेंड़िया

Must Read

RAIPUR: समाज कल्याण मंत्री श्रीमती अनिला भेंड़िया ने कहा है कि निरोग और स्वस्थ्य जीवनशैली का आधार योग है। योग हमें प्रकृति से जोड़कर रखता है।RAIPUR: राज्यपाल उइके डॉ. हरवंश सिंह जज दंत चिकित्सा संस्थान के व्हाईट कोट सेरेमनी में शामिल हुई योग हमारेे अंदर शारीरिक शक्ति के साथ ही सकारात्मक ऊर्जा का संचार करता है। उन्होंने कहा कि कोरोना महामारी के समय में लोगों को जो शारीरिक एवं मानसिक परेशानी आई, उसे दूर करने में योग ने सकारात्मक भूमिका निभाई। श्री भेंड़िया सोमवार को बिलासपुर के लखीराम ऑडिटोरियम में योग आयोग द्वारा आयोजित योग सम्मलेन एवं सम्मान कार्यक्रम को सम्बोधित कर रही थी।

RAIPUR: छत्तीसगढ़ योग आयोग


कार्यक्रम में छत्तीसगढ़ योग आयोग के अध्यक्ष श्री ज्ञानेश शर्मा, महापौर श्री रामशरण यादव, नगर निगम के सभापति श्री शेख नजरूद्दीन, छत्तीसगढ़ राज्य सहकारी आवास संघ के अध्यक्ष श्री अशोक अग्रवाल, जिला सहकारी केंद्रीय बैंक के अध्यक्ष श्री प्रमोद नायक, बिल्हा के पूर्व विधायक श्री सियाराम कौशिक, पूर्व महापौर श्रीमती वाणी राव, पूर्व महापौर श्री राजेश पाण्डेय, योग आयोग के सदस्य श्री रविन्द्र सिंह, बिलासपुर आईजी श्री रतनलाल डांगी विशेष रूप से मौजूद थे।

RAIPUR:समाज कल्याण मंत्री ने किया सम्मान


श्रीमती भेड़िया ने कहा कि घटती शारीरिक प्रतिरोधकता, तनावयुक्त, व्यस्त जीवन शैली को व्यवस्थित करने में योग का महत्व और अधिक बढ़ जाता है। समाज के सभी लोगों में योग के प्रति जागरूकता की आवश्यकता है। जिससे हम एक स्वस्थ समाज, प्रदेश और देश के निर्माण में सहयोगी बन सके।

RAIPUR: तन-मन को स्वस्थ रखने


उन्होंने सभी प्रदेशवासियों से तन-मन को स्वस्थ रखने के लिए अपनी दिनचर्या में योग को अनिवार्य रूप से शामिल करने का आव्हान किया। छ.ग. आयोग के अध्यक्ष श्री ज्ञानेश शर्मा ने कहा कि योग आयोग निरंतर योग के प्रति लोगों को जागरूक करने की दिशा में कार्य कर रहा है। उन्होंने योग आयोग द्वारा किए जा रहे प्रयासों पर प्रकाश डाला। महापौर श्री रामशरण यादव ने कहा कि स्कूल के पाठ्यक्रम में योग एक विषय के रूप में शामिल किया जाना चाहिए।

RAIPUR: कार्यक्रम में मंत्री श्रीमती भेड़िया


कार्यक्रम में मंत्री श्रीमती भेड़िया ने योग संस्थाओं, ब्रम्हकुमारी, आर्ट ऑफ लिविंग, पंतजलि, गायत्री संस्थान एवं शुद्ध योग केंद्र, विश्वविद्यालयों में योग के विभागाध्यक्ष एवं प्राध्यापकों, योगाचार्य सहित योग प्रशिक्षकों को प्रशस्ति पत्र एवं प्रतीक चिन्ह देकर सम्मानित किया। इस दौरान स्कूली बच्चों एवं योग प्रशिक्षकों ने योग की विभिन्न मुद्राओं का प्रदर्शन किया। सम्मान समारोह कार्यक्रम में राज्य बाल संरक्षण आयोग की सदस्य श्रीमती पूजा खनूजा सहित बड़ी संख्या में गणमान्य नागरिक मौजूद थे।

- Advertisement -

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

RO 12276/ 120

spot_img

RO 12242/ 175

spot_img

RO- 12172/ 127

spot_img

RO - 12027/130

spot_img

More Articles