छत्तीसगढ़ में शासकीय नौकरियों में भर्ती का सिलसिला तेजी से शुरू : सीएम बघेल

Must Read

रायपुर, 08 मई 2023 : मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा है कि राज्य शासन का यह प्रयास है कि विभिन्न विभागों में रिक्त पदों पर तेजी से भर्तियां हों। युवाओं को शासकीय सेवा में काम करने का अवसर मिले।

कोर्ट के आदेश के बाद छत्तीसगढ़ में शासकीय नौकरियों में भर्ती का सिलसिला तेजी से शुरू हो गया है। विभिन्न विभागों द्वारा नई भर्ती के लिए लगातार विज्ञापन जारी किए जा रहे हैं, इसी प्रकार जहां चयन प्रक्रिया पूरी हो गई, वहां नियुक्ति आदेश जारी किए जा रहे हैं।

मुख्यमंत्री आज यहां अपने निवास कार्यालय परिसर में आयोजित आभार कार्यक्रम को सम्बोधित कर रहे थे। लम्बे इंतजार के बाद नियुक्ति आदेश जारी होने से उत्साहित जल संसाधन विभाग के चयनित उप अभियंताओं और ऊर्जा विभाग में नवनियुक्ति जूनियर इंजीनियरों एवं डाटा एंट्री ऑपरेटरों द्वारा मुख्यमंत्री बघेल के प्रति आभार प्रकट करने के लिए यह कार्यक्रम आयोजित किया गया।

यह भी पढ़ें:-Chhattisgarh: सीएम भूपेश बघेल ने की घोषणा, नगर पंचायत लोरमी को बनाया जाएगा नगर पालिका

गौरतलब है कि मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की मंशा के अनुसार ऊर्जा विभाग और जल संसाधन विभाग द्वारा चयनित उप अभियंताओं के नियुक्ति आदेश तत्काल जारी किए गए। ऊर्जा विभाग के डाटा एंट्री ऑपरेटरों के डाक्यूमेंट का सत्यापन का कार्य किया जा रहा है। जल्द ही उनके नियुक्ति आदेश विभाग द्वारा किए जाएंगे।

इस अवसर पर पूर्व सांसद नंद कुमार साय, छत्तीसगढ़ राज्य खनिज विकास निगम के अध्यक्ष गिरीश देवांगन, मुख्यमंत्री के सलाहकार विनोद वर्मा, ऊर्जा विभाग के सचिव अंकित आनंद, जल संसाधन विभाग के सचिव अनबलगन पी. भी उपस्थित थे।

मुख्यमंत्री ने कार्यक्रम में चयनित सभी इंजीनियरों और डाटा एंट्री ऑपरेटरों को बधाई और शुभकामनाएं दी। उन्होंने कहा कि शासकीय सेवा में आने का आपका और आपके परिवार का सपना पूरा हुआ है। अब हम सबको मिलकर छत्तीसगढ़ की जनता के सपनों को साकार करना है। आप पर बड़ी जिम्मेदारी है।

यह भी पढ़ें:-Raipur: मुख्यमंत्री ने खुडिया स्थित दस महाविद्या मंदिर में पूजा अर्चना कर प्रदेशवासियों के खुशहाली और समृद्धि के लिए की कामना

प्रदेश के ऊर्जा परिदृश्य पर प्रकाश डालते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि पिछले साढ़े चार वर्षों में बिजली की डिमांड 4100 मेगा वॉट से बढ़कर 5300 मेगा वॉट हो गई है। खेती-किसानी, उद्योग, घरेलू क्षेत्र में बिजली की खपत बढ़ रही है। ऐसे में ऊर्जा विभाग के नये चयनित जूनियर इंजीनियरों पर गुणवत्तापूर्ण बिजली की लगातार आपूर्ति बनाए रखने, गुणवत्ता के साथ बिजली अधोसंरचना के विस्तार की जिम्मेदारी है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि जल संसाधन विभाग में भी काफी दिनों बाद इतनी बड़ी संख्या में इंजीनियरों की भर्ती की गई है। जल संसाधन विभाग के इंजीनियरों को खेतों तक पानी पहुंचाने के साथ उद्योगों को पानी की आपूर्ति तथा पेयजल व्यवस्था का भी ध्यान रखना है, इसके लिए आप लोगों से बड़ी आशाएं हैं।

छत्तीसगढ़ विद्युत पारेषण कंपनी की एमडी उज्जवला बघेल ने प्रतिवेदन प्रस्तुत करते हुए बताया कि छत्तीसगढ़ राज्य पावर कम्पनियों ने जूनियर इंजीनियरों के 307 पदों तथा डाटा एंट्री ऑपरेटरों के 400 पदों में भर्ती के लिए जनवरी 2022 में परीक्षा आयोजित की गई थी।

अगस्त 2022 में 276 जूनियर इंजीनियरों की नियुक्ति आदेश जारी कर दिए गए थे। कोर्ट के आदेश के बाद 31 जूनियर इंजीनियरों के नियुक्ति आदेश जारी किए गए हैं। जल संसाधन विभाग के अधीक्षण यंत्री पी.के. शर्मा ने बताया कि उप अभियंता के 400 पदों पर जल संसाधन विभाग द्वारा भर्ती के लिए विज्ञापन जारी किया गया था, भर्ती प्रक्रिया पूर्ण के बाद चयनित 352 उप अभियंताओं के नियुक्ति आदेश जारी कर दिए गए हैं। शेष 48 पदों पर जल्द आदेश जारी किए जाएंगे।

कार्यक्रम में छत्तीसगढ़ स्टेट पावर कम्पनी में जूनियर इंजीनियर के पद पर चयनित सुसमीक्षा सोनी, जल संसाधन विभाग के उप अभियंता आयुष सिंह और प्रेरणा तिवारी सहित नवनियुक्त इंजीनियरों ने शासकीय सेवा का अवसर मिलने पर मुख्यमंत्री के प्रति आभार प्रकट किया।

- Advertisement -

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

spot_img

More Articles