स्कूली छात्रों के लिए ‘युवा संसद‘ प्रतियोगिता, रायपुर संभाग में 27 जनवरी से शुरू होगी प्रतियोगिता

Must Read

रायपुर, 18 जनवरी 2023 : स्कूली विद्यार्थियों में नेतृत्व क्षमता के विकास और लोक तांत्रिक व्यवस्था से युवाओं को परिचित कराने के लिए ‘युवा संसद‘ प्रतियोगिता का आयोजन किया जा रहा है। यह प्रतियोगिता रायपुर संभाग में 27 जनवरी से शुरू होगी। प्रथम चरण में विकासखंड में 27 जनवरी से 5 फरवरी तक, जिला स्तर पर 6 फरवरी से 15 फरवरी तक युवा संसद प्रतियोगिता का आयोजन होगा। अंतिम चरण में संभाग स्तरीय युवा संसद का आयोजन होगा। संभाग स्तर पर यह प्रतियोगिता 18 से 25 फरवरी तक होगी।

युवा संसद प्रतियोगिता में शासकीय विद्यालयों में कक्षा 6वीं से 9वंी और कक्षा 11वीं के विद्यार्थी शामिल होंगे। युवा संसद की बैठक अवधि 50 मिनट की होगी। इसमें 20 मिनट का प्रश्नकाल, शेष 30 मिनट-शपथ ग्रहण, निधन संबंधी उल्लेख, नए मंत्री का सदन से परिचय, विशेषाधिकार हनन, राज्य सभा से संदेश, ध्यानाकर्षण प्रस्ताव, विधेयक-संकल्प-प्रस्ताव पर चर्चा, स्थगन प्रस्ताव, मत विभाजन, एवं पारित करना आदि प्रक्रियाओं का प्रदर्शन होगा। युवा संसद की भाषा प्रतिभागी विद्यार्थी अपनी इच्छानुसार हिन्दी अथवा अंग्रेजी का उपयोग कर सकते है। शपथ-ग्रहण के लिए भारतीय संविधान की आठवीं सूची में उल्लेखित भाषाओं में से किसी एक का प्रयोग किया जा सकता है। स्पीकर की भूमिका निभाने वाले विद्यार्थी को हिन्दी और अंग्रेजी दोनों भाषाएं आना चाहिए।

यह भी पढ़े :-झुमका जल महोत्सव 2023 : बॉलीवुड सिंगर विनोद राठौड़ के मैं हूं खलनायक गाते ही झूम उठे लोग

निर्णयक मूल्यांकन समिति के 3 सदस्यीय निर्णायों की समिति 100 अंकों पर मूल्यांकन करेगी। इसमें अनुशासन एवं मर्यादा पर 10 अंक, संसदीय प्रक्रियाओं का पालन पर 20 अंक, प्रश्नों एवं अनुपूरक प्रश्नों के लिए विषय चयन व उत्तर की गुणवत्ता पर 20 अंक, वाद-विवाद के विषयों के चयन पर 10 अंक, भाषा की गुणवत्ता एवं वाद-विवाद के स्तर पर 30 अंक और संपूर्ण प्रदर्शन के सामान्य मूल्यांकन पर 10 अंक निर्धारित किए गए है।

प्रथम और द्वितीय स्थान प्राप्त वाले दल को सामूहिक ट्रॉफी एवं प्रमाण पत्र पुरस्कार में दिया जाएगा। इसके अलावा सर्वश्रेष्ठ स्पीकर, मंत्री की भूमिका, सर्वश्रेष्ठ प्रश्नकर्ता, वक्ता पक्ष एवं विपक्ष को ट्रॉफी व प्रमाण पत्र प्रदान किया जाएगा। शेष सभी प्रतिभागियों को सहभागिता प्रमाण पत्र दिया जाएगा।

यह भी पढ़े :-राज्यपाल उइके ने राजभवन के वार्षिक कैलेण्डर-2023 का किया विमोचन

विकासखंड स्तर की प्रतियोगिता के लिए विकासखंड शिक्षा अधिकारी और जिला स्तर की प्रतियोगिता के लिए जिला शिक्षा अधिकारी नोडल अधिकारी रहेंगे। विकासखंड शिक्षा अधिकारी द्वारा नोडल नियुक्त कर 27 जनवरी के पूर्व संकुल स्तर पर प्रतियोगिता का आयोजन कराया जाएगा। रायपुर संभाग के पांच जिलों- रायपुर, महासमुंद, धमतरी, गरियाबंद, बलौदबाजार-भाटापारा के शासकीय विद्यालयों के कक्षा 6वीं से 9वीं और 11वीं तक विद्यार्थियों का दल प्रतियोगिता में शामिल होगा। प्रत्येक जिले दल में 48 सदस्य होंगे। इनमें छात्रों की संख्या 25 और छात्राओं की संख्या 23 तक रहेगी। पत्रकार दीर्घा में तीन स्थानीय विद्यार्थी रहेंगे। सदन के पक्षीय सदस्य 21, विपक्षीय सदस्य 18, सदन अध्यक्ष एक, सदन सचिवालय के अधिकारी-कर्मचारी 4, दो मार्शल, प्रभारी पुरूष एवं महिला शिक्षक एक-एक होंगे।

स्कूल शिक्षा विभाग द्वारा प्रत्येक सप्ताह शनिवार को बैग लेस डे रखा गया है। इस दिन कक्षा 6वीं से 12वीं तक पूरे संभाग में भारतीय संविधान से संबंधित प्रश्नोत्तरी प्रत्येक विद्यालय के नोडल शिक्षक द्वारा तैयार कर बच्चों के लिए प्रश्नोत्तरी कार्यक्रम रखा जाएगा। इसमें शाला विकास समिति के सदस्यों को भी सम्मिलित किया जाएगा। विकासखंड, जिला एवं संभाग स्तर पर आयोजित होने वाले ‘युवा संसद‘ प्रतियोगिता में कार्यक्रम के दौरान संविधान संबंधित प्रश्नोत्तरी दर्शक दीर्घा से भी पूछा जाएगा। प्रतियोगिता के प्रत्येक कार्यक्रम के बाद सांस्कृतिक कार्यक्रम का आयोजन करने कहा गया है। इसके साथ ही स्कूल शिक्षा विभाग द्वारा संचालित नवाचारी योजनाओं पर स्टॉल, प्रदर्शनी लगाए जाने का भी निर्णय लिया गया है। एक ही मुख्यालय पर संचालित बालक और कन्या विद्यालयों की संयुक्त टीमें बनायी जाए अथवा सह शिक्षा संस्थाओं की टीमों को प्रतियोगिता के लिए प्रशिक्षित किया जाए।

- Advertisement -

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

spot_img

RO 12141/ 126

spot_img

RO 12111/ 129

spot_img

RO- 12172/ 127

spot_img

RO - 12027/130

spot_img

RO - 12006/126

spot_img

More Articles