chhattisgarh assembly monsoon session: राजधानी में बिगड़ती कानून व्यवस्था सदन में गूंजा

0
172
Chhattisgarh Assembly: BJP's no-confidence motion rejected by voice vote

रायपुर: आज छत्तीसगढ़ विधानसभा मानसून सत्र का चौथा दिन है। आज भी सदन में धमाकेदार हंगामे की संभावना है। आज सदन में कुछ खास मुद्दों पर बहसबाजी होने के आसार है। सदन में चल रही गहमागहमी के बीच आज सदन में कांग्रेस MLA रामकुमार यादव ने चंद्रपुर विधानसभा क्षेत्र का मामला उठाया है। इसके साथ ही कांग्रेस विधायक ने केकराभाट और कबारीपाली के प्रभावित लोगों के मुआवजे का मामला भी उठाया। इसके अलावा घटोई डैम में प्रभावित लोगों के मुआवजा का मामला भी सदन में उठाया गया। कांग्रेस MLA के इन सवालों का कृषि मंत्री रविंद्र चौबे ने जवाब दिया।

बता दें कांग्रेस विधायक रामकुमार यादव के सवालों का जवाब देते हुए कृषि मंत्री रविंद्र चौबे ने कहा कि प्रभावित सभी किसानों को मुआवजा राशि नहीं दी गई है। अभी 6 किसानों का मुआवजा बाकी है। इसके आगे उन्होंने कहा कि मुआवजा एक जटिल प्रक्रिया है, और इसकी प्रकिया जारी है। बता दें इसके बाद सदन में विस अध्यक्ष चरणदास महंत ने मुआवजे के निर्देश दिए। : इसके बाद BJP MLA कृष्णमूर्ति बांधी ने कृषि विभाग में पदस्थ अधिकारियों के विरुद्ध जांच का मामला सदन में उठाया।

जिसका जवाब देते हुए कृषि मंत्री रविंद्र चौबे ने कहा कि EOW के 4 प्रकरण, विभागीय जांच के 12 और लोक आयोग के 10 प्रकरण हैं। इसपर बांधी ने सवाल किया कि जांच की अधिकतम समय सीमा क्या है? समय सीमा में जांच क्यों पूर्ण नहीं हुई? इसके जवाब में रविंद्र चौबे ने कहा कि इस मामले में विभाग के द्वारा 25 अधिकारियों पर कार्रवाई की गई है।

इसके साथ ही कृषि मंत्री ने कहा कि अधिकारीयों की दो-दो वेतन वृद्धि भी रोकी गई है। इसके अलावा सदन में राजधानी में बिगड़ती कानून व्यवस्था का मामला उठाया गया। बता दें बाईट दिनों हुए मूकबधिर युवक की हत्या का मामला सदन में गूंजा। भाजपा विधायक शिवतरन शर्मा ने सदन में इस मामले की जानकारी दी। MLA शिवरतन शर्मा ने मामले में स्थगन प्रस्ताव लाने की जानकारी दी। इसके साथ ही पूर्व मंत्री बृजमोहन अग्रवाल ने स्थगन प्रस्ताव पर चर्चा कराने की मांग की।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here