Former Israeli NSA: ‘आई2यू2’ में बाजी पलटने वाली साबित हो सकती है भारत की भागीदारी

0
198

यरूशलम: इजराइल के पूर्व राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार (एनएसए) ने बृहस्पतिवार को होने जा रही आई2यू2 समूह की पहली उच्च स्तरीय बैठक से पूर्व कहा कि इस समूह का गठन एक महत्वपूर्ण घटनाक्रम है, जिसमें भारत की भागीदारी ”बाजी पलटने वाली” साबित हो सकती है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी डिजिटल माध्यम से इस बैठक में शिरकत करेंगे।

‘आई2यू2’ समूह में भारत, इजराइल, संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) और अमेरिका शामिल हैं। चारों देशों की पहल के बाद अक्टूबर 2021 में इसका गठन हुआ था। इजराइल के पूर्व राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार मेजर जनरल याकोव एमिडरोर ने ‘पीटीआई-भाषा’ से कहा, ”भारत नए देशों को इसमें शामिल करके अब्राहम समझौतों के दायरे को बढ़ाने में भी मदद कर सकता है।”

उन्होंने कहा, ”भारत के पास यह कहकर अन्य देशों को समझाने की क्षमता है कि यह दुनिया के हित में है।” आई2यू2 समूह की बैठक में खाद्य सुरक्षा संकट और अन्य मुद्दों पर चर्चा होने की उम्मीद है। इजराइल के प्रधानमंत्री यायर लापिड और अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन बृहस्पतिवार को यरूशलम में इस बैठक में हिस्सा लेंगे। जबकि प्रधानमंत्री मोदी और संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) के राष्ट्रपति मोहम्मद बिन जायद डिजिटल माध्यम से इसमें शिरकत करेंगे।

मंगलवार को जारी आधिकारिक विज्ञप्ति में कहा गया है कि बैठक की शुरुआत में नेताओं की टिप्पणियों का सीधा प्रसारण किया जाएगा।
उन्होंने कहा, ”इस नए समूह में इजराइल यूरोप को जोड़ने वाला एक पुल है और भारत पूरे संदर्भ में एक और बड़ा व्यापारिक भागीदार है। इस लिहाज से देखें तो यह बाजी पलटने वाला साबित होगा।”

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here