तखतपुर में खुड़िया जलाशय से पानी सप्लाई के लिए जल्द बनाई जाए कार्ययोजना : मुख्यमंत्री बघेल

Must Read

तखतपुर, 19 जनवरी 2023 : मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने आज बिलासपुर जिले के तखतपुर विधानसभा के ग्राम खपरी में आयोजित अधिकारियों की बैठक में विभिन्न योजनाओं की क्रियान्वयन की स्थिति की समीक्षा की। मुख्यमंत्री ने भेंट-मुलाकात के दौरान तखतपुर में खुड़िया जलाशय से पानी की सप्लाई की घोषणा के संबंध में कहा कि इसके लिए अधिकारी जल्द कार्ययोजना तैयार करें। तखतपुर क्षेत्र में खारे पानी की समस्या के संबंध में मुख्यमंत्री ने कहा कि जहां गांवों में पानी टंकी बनी है, लेकिन उसका उपयोग नहीं हो पा रहा है वहां नल जल योजना के जरिए पानी की सप्लाई जल्द शुरू की जाए।

अधिकारियों ने बैठक में बताया कि 464 नल-जल योजनाओं के लिए वर्क आर्डर जारी कर दिया गया। नल जल योजना के अंतर्गत प्रतिदिन लगभग 200 नल कनेक्शन दिया जा रहा है। मुख्यमंत्री ने बैठक में अधिकारियों को खराब सड़कों की मरम्मत का कार्य शीघ्र कराने और गांवों में शिविर लगाकर जाति प्रमाण पत्र बनवाने के निर्देश दिए।

यह भी पढ़ें : मुख्यमंत्री बघेल ने बिलासपुर जिले को दी अनेक विकास कार्यों की सौगात

मुख्यमंत्री ने बैठक में हाट बाजार क्लीनिक योजना के बारे में जानकारी ली। अधिकारियों ने बताया कि जिले में 20 हाट बाजार चिन्हित हैं। मुख्यमंत्री ने इस योजना के लिए पर्याप्त संख्या में वाहनों की व्यवस्था करने के निर्देश दिए। भूमिहीन श्रमिक न्याय योजना के संदर्भ में अधिकारी ने बताया कि जिले में 34 हजार 873 लोगों का पंजीयन हुआ है, सभी को योजना का लाभ मिल रहा है।

गौठान के संबंध में जानकारी लेने पर तखतपुर सीईओ ने बताया कि ब्लॉक में 82 गौठान संचालित हैं। बैठक में जिला शिक्षा अधिकारी ने स्कूल भवनों के मरम्मत, रंगाई पुताई आदि के संबंध में जानकारी दी। मुख्यमंत्री ने सिंचाई विभाग के ईई को नहरों के लंबित मुआवजा प्रकरण के त्वरित निराकरण के निर्देश दिए। मुख्यमंत्री ने कहा कि भैसाझार परियोजना के प्रभावितों के मुआवज़ा वितरण के लिए कैम्प लगाएं।

यह भी पढ़ें :Raipur: छात्राओं से मोटे अनाज की आवश्यकता और उसके फायदों पर विस्तार पूर्वक चर्चा…

अधिकारी ने बताया कि 40 प्रकरणों में विवाद है इसलिए विलंब हो रहा है, इस पर मुख्यमंत्री ने जून तक निराकरण के निर्देश दिए। बैठक में सहायक आयुक्त आदिवासी विकास विभाग से वन अधिकार पट्टा के संबंध में जानकारी ली गई। मुख्यमंत्री ने कहा कि शिविर लगाकर पात्र लोगों से ज्यादा से ज्यादा आवेदन लेकर सभी पात्र लोगों को पट्टा प्रदान करें।

बैठक में सुपोषण योजना की प्रगति के संबंध में महिला एवं बाल विकास विभाग के अधिकारी ने बताया कि गर्भवती महिलाओं, 3 वर्ष के बच्चों एवं शिशुवती माताओं को गर्म भोजन प्रदान किया जा रहा है। एनीमिया जांच के बारे में अधिकारी ने बताया कि जिले में 353 एनीमिया के गंभीर मरीज हैं, इस पर अधिकारी को उनकी नियमित जांच और पौष्टिक आहार उपलब्ध करवाने के निर्देश दिए गए।

यह भी पढ़ें :Rahul Gandhi: भाजपा, आरएसएस ने देश में नफरत, हिंसा और भय का माहौल बना दिया है

बैठक में लघु वनोपज संग्रहण के बारे में अधिकारी ने बताया कि जिले में तेंदूपत्ता संग्रहण किया जाता है। इस वर्ष 32 हजार 200 मानक बोरा तेंदूपत्ता संग्रहण का लक्ष्य रखा गया था, जिसमें 30 हजार रुपए से अधिक मानक बोरा का संग्रहण किया गया है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि सहकारी बैंक के संबंध में पहली बार शिकायत आई है कि किसान एक दिन में 49 हज़ार रूपए ही निकाल पा रहे हैं। इस पर मुख्यमंत्री ने विसंगति दूर करने के निर्देश दिए। उन्होंने चेक एटीम, एनएफटी, आरटीजीएस के बारे में भी लोगों को जानकारी देने और कैश लिमिट बढ़ाने के निर्देश दिए। मुख्यमंत्री ने कृषि विभाग की योजनाओं का प्रचार-प्रसार करने के निर्देश दिए।

यह भी पढ़ें : Chhattisgarh: CM भूपेश बघेल बजट को लेकर मंत्री स्तरीय करेंगे चर्चा…

मुख्यमंत्री ने बैठक में कहा कि पटवारी मुख्यालय में नहीं बैठते, अधिकारी जांच करें और पटवारियों का मुख्यालय में बैठना सुनिश्चित करें। मुख्यमंत्री ने कहा कि पटवारियों के खिलाफ़ रिश्वत की शिकायत आ रही है, एसडीएम जाँच कर कार्रवाई करें, ऐसा नहीं होने पर एसडीएम के खिलाफ कार्रवाई होगी।

उन्होंने कानून एवं व्यवस्था के संबंध में ली जानकारी जिले में चाकूबाजी की घटनाओं पर संज्ञान लिया। उन्होंने कहा कि चाकूबाज़ी की घटनाओं पर लगाम लगाएं। गुंडा गर्दी करने वालों के खिलाफ़ कड़ी करवाई करें। ज़मीन विवाद एक कारण है तो राजस्व और पुलिस समन्वय कर गुंडागर्दी को रोके वरना अधिकारियों पर करवाई होगी। उन्होंने अतिक्रमण को रोकने राजस्व संबंधी विवादों को तत्काल सुलझाने के निर्देश दिए। लो वोल्टेज के संबंध में अधिकारी ने बताया कि एक सौ 16 ट्रांसफर लगा रहे हैं, जिससे आने वाले समय में बिजली की समस्या नहीं होगी, मुख्यमंत्री ने कृषि पम्प कनेक्शनों की जानकारी भी ली।

मुख्यमंत्री ने कहा कि पोड़ी कला विंध्यसार खम्हरिया के स्कूलों में शिक्षकों के अनुपस्थित रहने की शिकायत सामने आई है, जिला शिक्षा अधिकारी औचक निरीक्षण कर समस्या का निराकरण करें एवं अनुपस्थित शिक्षकों के विरुद्ध कार्रवाई करें। मुख्यमंत्री ने कहा कि भेंट-मुलाकात के दौरान पंचायत सचिवों से जुड़ी शिकायत सुनीता यादव, हर प्रसाद भास्कर ने की है, कलेक्टर जाँच कर रिपोर्ट दें।

- Advertisement -

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

RO 12276/ 120

spot_img

RO 12242/ 175

spot_img

RO- 12172/ 127

spot_img

RO - 12027/130

spot_img

More Articles