BIG NEWS: प्रज्वल रेवन्ना पूरी तरह सहयोग करने के लिए एसआईटी के समक्ष पहुंचे…

Must Read

बेंगलुरु: महिलाओं के यौन उत्पीड़न के आरोपों का सामना कर रहे जनता दल-सेक्युलर (जद-एस) के निलंबित नेता प्रज्वल रेवन्ना के वकील ने शुक्रवार को कहा कि सांसद प्रज्वल उनके खिलाफ जांच कर रहे विशेष जांच दल (एसआईटी) का पूरा सहयोग कर रहे हैं और उन्होंने इस मामले में ‘मीडिया ट्रायल’ नहीं किए जाने का अनुरोध किया है।

अधिवक्ता अरुण जी. ने कहा कि प्रज्वल को हासन जिले के होलेनरसीपुरा में उनके खिलाफ दर्ज एक मामले में गिरफ्तार किया गया है और यह देखने के लिए इंतजार करना होगा कि अदालत के समक्ष लंबित उनकी जमानत याचिका पर क्या फैसला होता है।

प्रज्वल रेवन्ना को जर्मनी से यहां पहुंचने के तुरंत बाद एसआईटी ने गिरफ्तार कर लिया और उनसे पूछताछ की।
अरुण ने कहा, ‘‘मैं उनसे बात करने गया था। उन्होंने मीडिया से कहा है कि वह जांच में सहयोग करने के लिए आगे आए हैं इसलिए उनका अनुरोध है कि ‘मीडिया ट्रायल’ न हो। अनावश्यक रूप से कोई नकारात्मक प्रचार न किया जाए।’’

उन्होंने यहां प्रज्वल से मुलाकात करने के बाद पत्रकारों से कहा कि हासन के सांसद पूरी तरह सहयोग करने के लिए एसआईटी के समक्ष आए हैं। उन्होंने कहा, ‘‘प्रज्वल ने कहा-‘मैं आगे आया हूं। मेरे बेंगलुरु या एसआईटी के समक्ष आने का उद्देश्य यह है कि मुझे अपने शब्दों पर कायम रहना है। मैं आगे आया हूं। मैं पूरा सहयोग करूंगा’ ये उनके शब्द हैं।’’

अधिवक्ता ने कहा कि उन्होंने प्रज्वल को अदालती प्रक्रिया के बारे में बताया। यह पूछे जाने पर कि क्या प्रज्वल ने उनके खिलाफ राजनीतिक साजिश रचे जाने या उनसे प्रतिशोध लिए जाने का अपना पुराना बयान दोहराया, अरुण ने कहा, ‘‘उन्होंने जो कुछ भी कहा है, वह पहले से ही मीडिया में उपलब्ध है। मुझे लगता है कि मुझे पहले से मौजूद बातों में कुछ जोड़ना या घटाना नहीं चाहिए, इसलिए मैं इस पर कोई स्पष्टीकरण नहीं देना चाहता।’’ उन्होंने कहा, ‘‘वह (प्रज्वल) आए थे, इसलिए मैं वहां गया था।

आज, मुझे एसआईटी से फोन आया, इसलिए मैं आया और उनसे बात की। इससे ज्यादा कुछ नहीं है।’’ यह पूछे जाने पर कि क्या प्रज्वल एसआईटी के सवालों का जवाब दे रहे हैं, उन्होंने कहा, ‘‘वह सहयोग कर रहे हैं।

उन्होंने (अधिकारियों ने) इस बारे में जानकारी साझा नहीं की है कि उन्हें अदालत में कब पेश किया जाएगा।’’ वकील ने अदालत में लंबित जमानत याचिका को लेकर कहा, ‘‘आपको संभवत: इंतजार करना होगा और देखना होगा कि अदालत में क्या होता है।

मैं अदालत के समक्ष लंबित याचिकाओं को लेकर बात नहीं करना चाहूंगा… जो भी हो, यह तय है कि हम अदालत के समक्ष अपनी दलीलें रखेंगे।’’ प्रज्वल ने अदालत में 29 मई को अग्रिम जमानत याचिका दायर की थी, जिसने 31 मई को सुनवाई की तारीख तय की थी और एसआईटी को आपत्तियां दर्ज करने के लिए नोटिस जारी किया था।

हासन के ‘होलेनरसीपुरा टाउन’ पुलिस थाने में 28 अप्रैल को प्रज्वल के खिलाफ दर्ज पहले मामले में उन पर 47 वर्षीय पूर्व घरेलू सहायिका का यौन उत्पीड़न करने का आरोप है। उन्हें आरोपी नंबर दो के रूप में सूचीबद्ध किया गया है, जबकि उनके पिता और होलेनरसीपुरा स विधायक एच डी रेवन्ना को आरोपी नंबर एक बनाया गया है।
प्रज्वल के खिलाफ अब तक यौन उत्पीड़न के तीन मामले दर्ज हो चुके हैं। उनके खिलाफ बलात्कार का भी आरोप लगाया गया है।

- Advertisement -

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

spot_img

More Articles