मारपीट और पीठ पर PFI लिखने का मामला : शिकायत करने वाले सैनिक को पुलिस ने हिरासत में लिया

Must Read

नई दिल्ली : पीठ पर PFI लिखने वाले मामले में अब एक नया मोड़ सामने आया है…दक्षिण केरल के कोल्लम में मारपीट और पीठ पर पीएफआई (PFI) लिखने की शिकायत देने वाले सैनिक को ही उसके दोस्त के साथ पुलिस ने हिरासत में ले लिया है। उस पर घटना के बारे में कथित तौर पर गलत बयान देने का आरोप है।

इसे भी पढ़ें :-भोपाल में PFI के पकड़े गए 13 सदस्यों से ATS करेगी पूछताछ

गौरतलब है कि, सैनिक की शिकायत पर कड़क्कल पुलिस ने मंगलवार को एक व्यक्ति को हिरासत में लिया था। दरअसल, सैनिक ने शिकायत दी थी कि रविवार को छह लोगों ने उसकी पिटाई की और उसकी पीठ पर हरे रंग से पीएफआई (PFI) लिख दिया। पुलिस ने सोमवार को बताया था कि घटना रविवार रात कड़क्कल में उनके घर के पास हुई जब सैनिक घर लौट रहे थे।

इसे भी पढ़ें :-UP News : बैंक के लॉकर में रखा 18 लाख रुपये को दीमक खा गई…बैंक बोली….

वहीँ, अब इस मामले ने नया मोड़ ले लिया है। जिले के एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने कहा कि मामले में अब तक कोई गिरफ्तारी दर्ज नहीं की गई है। हालांकि, सैनिक शाइन कुमार और उसके दोस्त के बयान दर्ज किए जा रहे हैं। उनके बयानों की पुष्टि होने के बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी।

वहीँ, अधिकारी ने यह भी कहा कि सैनिक के दोस्त ने दावा किया है कि कुमार मशहूर होना चाहता था और इसी वजह से इस पूरी घटना को अंजाम दिया है। उन्होंने कहा कि शाइन झूठे बयान देने के अलग-अलग कारण बता रहा था। इसलिए पहले उसके बयानों की जांच करनी चाहिए।

इसे भी पढ़ें :-छत्तीसगढ़ मनवा कुर्मी क्षत्रीय समाज चंदखुरी राज के 20 पदाधिकारी लोगों ने ली कांग्रेस की सदस्यता

पुलिस ने दोस्त के घर से घटना में कथित तौर पर इस्तेमाल किया गया हरा पेंट, ब्रश और टेप भी बरामद किया।

वहीं, मिडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, सैनिक के दोस्त ने मीडिया को बताया कि कुमार ने मशहूर होने के लिए पूरी योजना बनाई। उसने ही उसे मारने और पीठ पर पीएफआई (PFI) लिखने को कहा था। उसने कहा, ‘मैं नशे में था, इसलिए मैंने शुरू में डीएफआई लिख दिया, बाद में कुमार ने पीएफआई लिखने के लिए कहा। मैंने डी को फिर पी में बदला’।

इसे भी पढ़ें :-Raipur: CM भूपेश बघेल की अध्यक्षता में आज मंत्रिपरिषद की बैठक शुरू…

दोस्त ने बताया, ‘शाइन ने पीएफआई (PFI) लिखने के बाद कहा कि मुझे पीटो, लेकिन मैंने कहा कि मैं नहीं मार सकता। फिर उसने मुझे उसे जमीन पर खींचने के लिए कहा, लेकिन मैं नशे की हालत में था इसलिए उसे खींच नहीं पाया। बाद में उसने मुझे अपना मुंह और हाथ को टेप से बांधने को कहा। इन सबके बाद उसने कहा कि अब तुम जाओ।’ दोस्त ने दावा किया कि नशे की हालत की वजह से उसने शाइन की सब बात मान ली।

- Advertisement -

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

spot_img

More Articles