चुनाव मे तय हार की खीझ से भाजपा नेता अधिकारियो को धमका रहे : कांग्रेस

Must Read

रायपुर 26 नवंबर 2023 : भाजपा द्वारा लगातार बयानों और चुनाव आयोग मे गलत शिकायत कर क़े अधिकारियो को धमका रही है। कांग्रेस संचार विभाग क़े अध्यक्ष सुशील आनंद शुक्ला नें कहा की चुनाव मे तय हार की खीझ से भाजपाई अधिकारियो को धमकाने और डरवाने पर उत्तर आये हैं। चुनाव परिणाम आने क़े बाद भाजपा दहाई क़े अंक तक भी नहीं पहुंच पायेगी।

भाजपा क़े नेता सरकार बनाने क़े मुंगेरी लालक़े हसीन सपने देख रहे है। राज्य कांग्रेस की सरकार दो तिहाई बहुमत क़े साथ वापस आएगी।छत्तीसगढ़ मे भाजपा मुद्दाविहीन थी चुनाव मे भाजपा नें केंद्रीय एजेंसियो का जम कर दुरूपयोग किया। जनता नें भाजपा क़े सारे षड़यंत्रो को नकार कर उसके खिलाफ मतदान किया है।

इसे भी पढ़ें :-AAP का स्थापना दिवस आज : CM केजरीवाल ने Manish Sisodia को किया याद

कांग्रेस संचार प्रमुख सुशील आनंद शुक्ला नें कहा भाजपा छत्तीसगढ़ मे ईडी क़े अगुआई मे चुनाव लडी। ईडी नें आपने संवैधानिक मर्यादाओ को ताक मे रख कर कांग्रेस की राजनैतिक गतिविधियों मे बाधा पहुंचाने क़े लिए चुनाव क़े दौरान तमाम हथकंडे अपनाया मुख्यमंत्री की छवि खराब करने क़े लिए एक व्यक्ति क़े फर्जी बयान क़े आधार पर प्रेस नोट जारी कर क़े झूठे आरोप लगाया गया उसी क़े आधार पर प्रधानमंत्री से लेकर छोटे बड़े भजपा नेताओं नें ईडी की झूठी कहानी को जनता क़े सामने रखा लेकिन जनता नें भाजपा क़े षड्यंत्रो को नकार दिया.

इसे भी पढ़ें :-तेलंगाना सरकार पर सीएम योगी का हमला : बोले-मुस्लिम आरक्षण संविधान के खिलाफ, ये SC/ST के साथ अन्याय

कांग्रेस संचार प्रमुख सुशील आनंद शुक्ला नें कहा कि पूरे चुनाव क़े दौरान समुची भाजपा भूपेश बघेल क़े कद क़े सामने बौनी नजर आ रही थी प्रधानमंत्री खुद 7 सभा करने आने को मजबूर हुए अमितशाह सहित एक दर्जन से अधिक केंद्रीय मंत्री आधा दर्जन मुख्यमंत्री अडानी क़े इशारे पर छत्तीसगढ़ मे डेरा डाले थे।सभी भाजपा नेता भूपेश बघेल क़े खिलाफ दुष्प्रचार मे लगे उसके बावजूद छत्तीसगढ़ कि जनता नें बता दिया कि उन सब पर छत्तीसगढ़िया सपूत भारी साबित हुए…

- Advertisement -

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

spot_img

More Articles