छत्तीसगढ़ भू-संपदा विनियामक प्राधिकरण (रेरा) के अध्यक्ष ढांड को उनके सेवानिवृत्ति पर दी गई विदाई

Must Read

रायपुर, 13 जनवरी 2023/ छत्तीसगढ़ भू-संपदा विनियामक प्राधिकरण (रेरा) के अध्यक्ष विवेक ढांड को आज उनके सेवानिवृत्ति पर भाव-भीनी विदाई दी गई। छत्तीसगढ़ भू-संपदा विनियामक प्राधिकरण (रेरा) के अध्यक्ष विवेक ढांड आज 13 जनवरी 2023 को अपने कार्यकाल समाप्त होने के पश्चात् अध्यक्ष पद से सेवानिवृत्त हो गए हैं।

छत्तीसगढ़ भू-संपदा विनियामक प्राधिकरण (रेरा) के अध्यक्ष ढांड ने इस अवसर पर कहा कि प्राधिकरण इन पांच वर्षों में एक स्वायत संस्था की तरह रियल एस्टेट सेक्टर के सर्वांगीण विकास हेतु कार्य किया है। प्राधिकरण द्वारा अभी तक 1 हजार 509 प्रोजेक्ट का पंजीयन, 708 रियल एस्टेट का पंजीयन तथा 01 हजार 680 शिकायतों का निराकरण किया गया है।

पदस्थापना स्थल पर अब तक उपस्थिति नहीं देने वाले एम.बी.बी.एस. अनुबंधित चिकित्सा अधिकारियों से बॉण्ड राशि की वसूली की कार्रवाई शुरू

 

उल्लेखनीय है कि विवेक ढांड भारतीय प्रशासनिक सेवा के अविभाजित मध्यप्रदेश कैडर के वर्ष 1981 बैच के अधिकारी हैं। छत्तीसगढ़ राज्य के गठन उपरांत उन्हें छत्तीसगढ़ कैडर आबंटित हुआ है। विवेक ढांड मध्यप्रदेश शासन एवं छत्तीसगढ़ शासन के विभिन्न प्रमुख पदों पर अपनी सेवाएं दी हैं। छत्तीसगढ़ भू-संपदा विनियामक प्राधिकरण (रेरा) के अध्यक्ष बनने के पूर्व वे मुख्य सचिव छत्तीसगढ़ शासन के पद पर पदस्थ रहे।

छत्तीसगढ़ शासन द्वारा 27 दिसम्बर 2017 को तत्कालीन मुख्य सचिव, छत्तीसगढ़ शासन को अध्यक्ष, छत्तीसगढ़ भू-संपदा विनियामक प्राधिकरण (रेरा) नियुक्त किया गया था। अध्यक्ष श्री ढांड 15 जनवरी 2018 को पदभार ग्रहण किए पांच वर्ष सफलतापूर्वक अपनी सेवाएं देने के पश्चात् आज 13 जनवरी 2023 को सेवानिवृत्त हुए हैं। उनके सेवानिवृत्ति होने के पश्चात् नये सदस्य की नियुक्ति तक प्रकरणों की सुनवाई न्याय निर्णायक अधिकारी छत्तीसगढ़ भू-संपदा विनियामक प्राधिकरण (रेरा) दीपा कटारे द्वारा किया जाएगा।

- Advertisement -

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

spot_img

More Articles