Maharashtra: अमेरिका की हटिंग, जिंदल सॉ ने नासिक में ढाई करोड़ डॉलर का ओसीटीजी संयंत्र लगाया

Must Read

नासिक: घरेलू कंपनी जिंदल सॉ महाराष्ट्र में अमेरिका स्थित हटिंग एनर्जी र्सिवसेज के साथ संयुक्त उद्यम में स्थापित 2.5 करोड़ डॉलर की सुविधा का सोमवार को उद्घाटन किया। पाइप विनिर्माता जिंदल सॉ ने 2019 में भारत में तैयार सीमलेस केंिसग व ट्यूंिबग के विनिर्माण के हटिंग की पेटेंट कनेक्शन प्रौद्योगिकी का इस्तेमाल करने के लिए साझेदारी की थी।

जिंदल सॉ लिमिटेड के समूह मुख्य कार्यपालक अधिकारी (सीईओ) एवं पूर्णकालिक निदेशक नीरज कुमार ने ‘पीटीआई-भाषा’ से कहा कि साझेदारी के तहत संयुक्त उद्यम (जेवी) कंपनी जिंदल हटिंग एनर्जी र्सिवसेज लिमिटेड (जेएचईएसएल) ने नासिक में आॅयल कंट्री ट्यूबलर गुड्स (ओसीटीजी) थ्रेंिडग संयंत्र स्थापित करने के लिए 2.5 करोड़ डॉलर से अधिक का निवेश किया है।

संयुक्त उद्यम में जिंदल सॉ के पास 51 प्रतिशत हिस्सेदारी और हटिंग एनर्जी के पास शेष 49 प्रतिशत हिस्सेदारी होगी। जिंदल सॉ लिमिटेड के चेयरमैन पी आर जिंदल ने कहा, ‘‘ इस पहल के जरिये समूह सरकार की आत्मनिर्भर पहल में हिस्सा लेने में सक्षम होगा। अत्याधुनिक सुविधा उन कंपनियों को विश्वस्तरीय उत्पाद प्रदान करेगी जो आयात पर निर्भर हैं।’’

हटिंग पीएलसी के मुख्य कार्यपालक अधिकारी जिम जॉनसन ने कहा, ‘‘ जैसे-जैसे हम आगे बढ़ रहे हैं, हम और अधिक उन्नत संपर्क प्रौद्योगिकी तकनीक पेश करने की उम्मीद कर रहे हैं। मुझे विश्वास है कि यह संयुक्त उद्यम विनिर्माण सुविधा स्थानीय तेल व गैस (ओ एंड जी) उद्योग को लाभ पहुंचाएगी और भारत के ऊर्जा बदलाव के सफर में अहम भूमिका निभाएगी।’’ जिंदल सॉ भारत, अमेरिका, यूरोप और संयुक्त अरब अमीरात में विनिर्माण सुविधाओं के साथ स्टील पाइप उत्पादों, फिंिटग और सहायक उपकरण की विनिर्माता तथा आपूर्तिकर्ता है।

- Advertisement -

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

spot_img

More Articles