Mumbai: पुजारी के भेष में जैन मंदिरों से उड़ाता था सोना-चांदी, गिरफ्तार…

Must Read

मुंबई: महाराष्ट्र की दिंडोशी पुलिस ने एक चोर को पकड़ने में सफलता पाई, जिसे क्राइम पैट्रोल सीरियल देखकर अपराध का तरीका सूझा था. यह शख्स पुजारी के भेष में जैन मंदिरों में जाता था, फिर वहां पूजा करने के बहाने मंदिर में रखे सोने की थाली और प्लेट चोरी करके फरार हो जाता था. वह चोरी का सामान बेचकर उन पैसों से जुआ खेलता. पुलिस के मुताबिक नकली पुजारी बन शख्स ने 23 जनवरी को एक जैन मंदिर से 160 ग्राम वजनी सोने की प्लेट चुराई. आरोपी का नाम भरत सुखराज दोशी है.

दिंडोशी पुलिस ने बताया कि वह रोजाना 5 जैन मंदिरों की रेकी करता था, फिर मौका पाकर चोरी की वारदात को अंजाम देता. एक जैन पुजारी ने दिंडोशी थाने में चारी के संबंध में मामला दर्ज करवाया था. पुलिस ने जांच पड़ताल शुरू की और मंदिर के आसपास लगे लगभग 100 से अधिक सीसीटीवी फुटेज को खंगालना शुरू किया, तो आरोपी के बारे में सुराग मिला. सुखराज दोशी को मुबंई के मलाड पश्चिम से पकड़ा गया. उसके पास से एक सोने का बर्तन भी मिला है, जिसे पुलिस ने जब्त कर लिया.

दिंडोशी के पुलिस अधिकारी धनंजय कावड़े ने बताया कि जैन मुनि धीरज लाल शाह ने थाने में सोने के बर्तन चोरी होने का मामला दर्ज करवाया था. जांच के दौरान पुलिस ने 100 से ज्यादा सीसीटीवी फुटेज खंगाले तो वहां एक शख्स रेकी करता दिखा. पुलिस ने उसकी तलाश शुरू की और गिरफ्तार किया. पूछताछ में आरोपी ने अपना गुनाह कबूल कर लिया. साथ ही बताया कि उसने और भी कई जैन मंदिरों में इस तरह की वारदात को अंजाम दिया है.

पुलिस फिलहाल आरोपी से पूछताछ कर रही है. धनंजय कावड़े ने बताया कि आरोपी 53 साल का है. वह रामचंद्र लेन मालाड पक्षिम का रहने वाला है. आरोपी के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी. उसके पास से चोरी किया गया सोने का सामान और स्कूटर जब्त कर लिया गया है. पूछताछ में आरोपी ने बताया कि क्राइम पेट्रोल सीरियल देखकर उसे चोरी का आइडिया आया था.

- Advertisement -

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

spot_img

More Articles