Odisha: मालगाड़ी बेपटरी होकर प्लेटफॉर्म तथा प्रतीक्षालय से टकराई, 3 लोगों की मौत, सात अन्य घायल…

Must Read

जाजपुर: ओडिशा के जाजपुर जिले के कोरेई रेलवे स्टेशन पर सोमवार को एक मालगाड़ी बेपटरी होकर प्लेटफॉर्म तथा प्रतीक्षालय से टकरा गई, जिससे वहां खड़े यात्री उसकी चपेट में आ गए। हादसे में कम से कम तीन लोगों की मौत हो गई, जबकि सात अन्य लोग घायल हुए हैं। अधिकारियों ने यह जानकारी दी।

पूर्वी तटीय रेलवे (ईसीओआर) के अधिकारियों ने बताया कि हादसा सुबह करीब छह बजकर 44 मिनट पर हुआ, जब कुछ लोग प्लेटफॉर्म पर यात्री ट्रेन का इंतजार कर रहे थे। स्टेशन के कर्मचारियों ने बताया कि डांगोवापोसी से छत्रपुर जा रही खाली मालगाड़ी के ‘लोको पायलट’ (ट्रेन चालक) के अचानक से ब्रेक लगाने से उसके आठ डिब्बे पटरी से उतर गए और प्लेटफॉर्म तथा प्रतीक्षालय से टकरा गए। इससे वहां मौजूद कुछ लोग इसकी चपेट में आ गए।

बचाव अभियान पर नजर रखने वाले जाजपुर के अपर जिलाधिकारी अक्षय कुमार मलिक ने बताया कि कुछ डिब्बे ‘फुट-ओवर-ब्रिज’ पर जा चढ़े और प्रतीक्षालय तथा टिकट खिड़की पर गिर गए। हादसे में एक मां-बेटी की मौत हो गई। वहीं हादसे में उनके साथ मौजूद ढाई वर्ष का एक बच्चा बाल-बाल बच गया। हादसे में अपनी पत्नी और बेटी खोने वाले व्यक्ति ने यह जानकारी दी।

पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि उन्हें मलबे में और लोगों के दबे होने का संदेह है। रेलवे के अधिकारियों ने बताया कि जान गंवाने वालों की संख्या बढ़ सकती है क्योंकि कुछ लोग गंभीर रूप से घायल हैं। हादसे में स्टेशन परिसर को भी काफी नुकसान पहुंचा है।
सोशल मीडिया पर प्रसारित हुए घटना के वीडियो में पटरी से उतरे डिब्बे प्लेटफॉर्म पर नजर आ रहे हैं। कुछ डिब्बों ने ‘फुट-ओवर-ब्रिज’ के एक द्वार को क्षतिग्रस्त कर दिया, जबकि अन्य ने बिजली की तारों को तोड़ दिया। स्टेशन परिसर की कई इमारतें क्षतिग्रस्त हुई हैं।

वीडियो में मौके पर मौजूद स्थानीय लोग भी मलबा हटाने में मदद करते और उसके नीचे लोगों को ढूंढते नजर आ रहे हैं। एक अधिकारी ने बताया कि रेलवे के अलावा ओडिशा आपदा त्वरित कार्रवाई बल (ओडीआरएएफ), दमकल सेवाएं और स्थानीय लोग बचाव कार्य में जुटे हैं। इस बीच, रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव ने जान गंवाने वाले लोगों के परिवार वालों को पांच-पांच लाख रुपये और गंभीर रूप से घायल लोगों को एक-एक लाख रुपये, जबकि मामूली रूप से घायल लोगों को 25-25 हजार रुपये की अनुग्रह राशि देने की घोषणा की है।

वैष्णव ने उड़िया भाषा में ट्वीट किया, ‘‘ कोरेई ट्रेन हादसे में लोगों की मौत की खबर से बेहद दुखी हूं। जान गंवाने वालों के परिवार वालों को पांच-पांच लाख रुपये, गंभीर रूप से घायल लोगों को एक-एक लाख रुपये और मामूली रूप से घायल लोगों को 25-25 हजार रुपये की अनुग्रह राशि दी जाएगी।’’

मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने भी ट्वीट कर हादसे में लोगों के हताहत होने पर दुख व्यक्त किया। उन्होंने जान गंवाने वाले लोगों के परिजन को दो-दो लाख रुपये देने और घायलों का मुफ्त इलाज किए जाने की घोषणा की है। पटनायक ने राजस्व एवं आपदा प्रबंधन मंत्री रमिला मलिक को मौके पर जाकर स्थिति का जायजा लेने को कहा है।

हावड़ा-चेन्नई मार्ग पर ट्रेन सेवाएं प्रभावित हुईं क्योंकि हादसे के कारण दोनों लाइनें अवरुद्ध हो गईं। ईसीओआर ने आठ ट्रेनें रद्द कीं, अन्य पांच ट्रेन के यात्रियों को दूसरी ट्रेन से यात्रा करने या पैसे वापस लेने का विकल्प दिया है। वहीं 12 ट्रेन के मार्ग परिर्वितत किए गए हैं। उन्होंने बताया कि एक दुर्घटना राहत ट्रेन और एक चिकित्सकीय दल मौके पर भेजा गया है।

हादसे के कारण भुवनेश्वर और पुरी सहित विभिन्न रेलवे स्टेशन पर सैकड़ों यात्री फंस गए। उनमें से कुछ पहले ही अपने होटल से ‘चेक-आउट’ कर चुके थे और ट्रेन का इंतजार कर रहे थे। ईसीओआर ने मदद के लिए आपात ‘हेल्पलाइन नंबर’ 8455889905 (कोरेई स्टेशन), 0674-2534027 (भुवनेश्वर) और 0674-2492245 (खुर्दा रोड) जारी किए हैं। राहत कार्य की निगरानी के लिए ईसीओआर के महाप्रबंधक रूप नारायण सुनकर और अन्य वरिष्ठ अधिकारी मौके पर पहुंचे हैं।

- Advertisement -

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

Ro 12338/134

spot_img

RO-12294/ 120

spot_img

RO 12276/ 120

spot_img

RO 12242/ 175

spot_img

More Articles