RAIPUR: मॉब लिंचिंक के मामले में पीड़ितों को न्याय दिलाने सामने आया रजा यूनिटी फाउंडेशन समस्त मुस्लिम समाज सड़कों पर संवैधानिक रूप से प्रदर्शन करने की तैयारी में…

0
117

रायपुर: राजधानी रायपुर बॉर्डर पर महानदी के पास दिनांक 7 जून कि दरमियान रात में हुए मॉब लिचिंग के मामले में अब तक आरोपियों कि गिरफ्तारी नहीं हो पाई हैं। घटना कि जानकारी मिलते ही मौके में आरंग पुलिस चांद मियां का शव नदी में पाया वही 02 घायल युवक गुड्डू खान, सद्दाम कुरैशी को उपचार के लिए अस्पताल में भर्ती कराया जहां उपचार के दौरान गुड्डू खान ने दम तोड़ दिया।

वही मुख्य गवाह सद्दाम कुरैशी को निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया। जिसने भी उपचार के दौरान मंगलवार 18 जून को दम तोड़ दिया। वही मेकाहारा अस्पताल के मर्चुरी में सद्दाम का पीएम भारी पुलिस सुरक्षा में कराया गया वही मृतक सद्दाम के परिजन इंशाफ कि गुहार लगाते हुए सद्दाम कुरैशी के शव लेने से इंकार कर रहे थे मौके पर मौजूद पुलिस के आला अधिकारियों ने किसी तरह परिजन को समझा कर शव को परिजनों को सौंपा, वहीं मृतक के शव को एम्बुलेंस से गृह ग्राम सहारनपुर यूपी रवाना किया।

मौके पर भीड़ को देखते हुए भारी संख्या में पुलिस बल तैनात किया गया। वही घायल युवक सद्दाम की मृत्यु के बाद प्रदेश भर के मुस्लिम समाज के लोग आक्रोशित हैं। पुलिस की कार्यप्रणाली और सुस्त रवैया के कारण अभी तक किसी भी तरह की कोई बात या किसी की गिरफ्तारी नहीं की गई।

जिसको लेकर रज़ा यूनिटी फाउंडेशन के द्वारा पहल करते हुए समस्त जिले के पदाधिकारियों, मुस्लिम अंजुमन, जमात, सामाजिक संगठन, राजनीतिक बुद्धिजीवियों से प्रदेश स्तरीय मीटिंग आयोजित की गई। जिसमे सभी ने एक मंच पर छत्तीसगढ़ में एक विशाल धरना प्रदर्शन की बात कही।

सभी ने कहा कि अगर 03 दिवस के भीतर कोई गिरफ्तारी नहीं होती है। तो शुरू में कुछ जिलों में सांकेतिक प्रदर्शन किया जायेगा, फिर पूरे प्रदेश भर में मुस्लिम समाज सड़कों पर संवैधानिक रूप से प्रदर्शन करेंगे। रज़ा यूनिटी फाउंडेशन के प्रदेश अध्यक्ष शादाब आलम रजवी और बाकी पदाधिकारियों ने बताया कि इस संबंध में बहुत जल्द हाई कोर्ट में याचिका दायर की जायेगी। फाउंडेशन और समस्त मुस्लिम समाज पीड़ितो को न्याय दिलाने के लिए हर संभव प्रयास करेगा।

जांच एजेंसी एसआईटी (SIT) पर उठ रहे सवालियां निशान
एसआईटी टीम घायल युवक सद्दाम कुरैशी का बयान क्यों नहीं ले पाई।
घायल युवक सद्दाम कुरैशी के सुरक्षा में कितने पुलिस वाले लगे थे।
क्या एसआईटी टीम घायल के स्वास्थ से संबंधित जानकारी डॉक्टरो से लेते थे।
घायल सद्दाम कुरैशी का बयान वाला विडियो एसआईटी टीम कि जगह किसने लिया।
बड़ा सवाल मुख्य गवाह सद्दाम कुरैशी का बयान वाला विडियो को एसआईटी टीम गंभीरता पूर्वक लेगी क्या आरोपियों के गिरेबान तक पुलिस पहुंच पायेगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here