Shilpa Murder Case : मध्य प्रदेश से भागकर राजस्थान पहुंचा हेमंत गिरफ्तार…गर्लफ्रेंड का दो ब्लेड से काट दिया था गला

0
196
Shilpa Murder Case : मध्य प्रदेश से भागकर राजस्थान पहुंचा हेमंत गिरफ्तार...गर्लफ्रेंड का दो ब्लेड से काट दिया था गला

Shilpa Murder Case : मध्य प्रदेश के जबलपुर के मेखला रिसोर्ट में गर्लफ्रेंड का गला और हाथ की नसें काटकर हत्या और फिर लाश के पास बैठकर वीडियो बनाने वाले हत्यारे को राजस्थान से गिरफ्तार किया गया है। वहीँ बीते करीब दस दिन में हत्यारा चार राज्यों से होता हुए राजस्थान पहुंचा था।

बताया जा रहा है कि यहां से भी वो गुजरात और फिर महाराष्ट्र भागने का प्रयास कर रहा था, लेकिन मध्य प्रदेश पुलिस की सूचना पर उसे गुरुवार को सिरोही से पुलिस ने पकड़ा। इससे पहले अजमेर में एटीएम से उसकी लोकेशन ट्रेस की गई। आरोपी को शुक्रवार को सिरोही पुलिस ने जबलपुर पुलिस को सौंप दिया था।

जशपुरनगर : कलेक्टर जिले में तैनात 15 चिरायु टीम को आंगनबाड़ी और स्कूलों का निरीक्षण करने दिए सख्त निर्देश

सात नवंबर को गर्लफ्रेंड शिल्पा का मर्डर कर भागा हत्यारा हेमंत उर्फ अभिजीत जबलपुर से सबसे पहले चंडीगढ़ गया था। इसके बाद वह हिमाचल और दिल्ली होते हुए 17 नवंबर को अजमेर पहुंचा। यहां बस स्टैंड पर लगे एसबीआई एटीएम से उसने 20 हजार रुपए निकाले थे। यहीं से उसकी जानकारी बैंक के जरिए जबलपुर पुलिस को मिली थी। इसके बाद सूचना अजमेर पुलिस को दी गई, लेकिन हत्यारा इससे पहले ही प्राइवेट बस से सिरोही की ओर निकल गया।

इस पर अजमेर समेत अलग-अलग जगह पुलिस चेकपोस्ट बनाकर बसों को रुकवाकर चेकिंग शुरू की गई। चेकिंग के दौरान उदयपुर-पालनपुर हाइवे स्वरूपगंज थाने के सामने पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया।

हत्यारे हेमंत ने 10 दिन में 4 हजार किलोमीटर सफर तय किया। सबसे पहले आरोपी की लोकेशन हरियाणा के रेवाड़ी में मिली थी। जबलपुर पुलिस ने उसका पीछा शुरू किया गया। लेकिन, शातिर दिमाग हेमंत उर्फ अभिजीत हर बार पुलिस के पहुंचने के पहले अपनी लोकेशन बदल लेता था।

स्वरूपगंज (सिरोही) थानाधिकारी हरि सिंह राजपुरोहित ने बताया कि जबलपुर मध्य प्रदेश पुलिस की कई टीमें महाराष्ट्र, मध्य प्रदेश, हिमाचल प्रदेश, राजस्थान में लगातार पीछा कर रही थीं। आरोपी के अजमेर से महाराष्ट्र की तरफ किसी बस में जाने की सूचना मिलते थी। टीम ने योजना बनाकर नाकाबंदी कर वाहनों को चेक किया। आरोपी को लग्जरी बस में से गिरफ्तार किया गया।

जानिए क्या है पूरा मामला

दरअसल 8 नवंबर दोपहर को शिल्पा का शव जबलपुर के मेखला रिसॉर्ट के कमरा नंबर 5 में रजाई में लिपटा हुआ मिला था। शिल्पा काे गला और हाथों की नसें काटकर तड़पा-तड़पा कर मारा था। पूरे हत्याकांड का वीडियो बनाकर सोशल मीडिया पर वायरल कर फ़रार होने वाला आरोपी हेमंत नासिक का है। वह फिलहाल जबलपुर में ही रह रहा था। हेमंत और शिल्पा मेखला रिसॉर्ट में 6 नवंबर को पहुंचे थे। इस दिन तो वह रिसॉर्ट में नजर आई थी, लेकिन 7 नवंबर को वह दिनभर नहीं दिखी थी।

सूरजपुर : कलेक्टर ने आरा ने किया शक्कर कारखाना की पेराई सत्र 2022-23 का निरीक्षण

आरोपी अभिजीत उर्फ हेमंत जबलपुर में हुए शिल्पा झारिया मर्डर केस में फरार चल रहा था। गिरफ्तारी के बाद 19 नवंबर को कोर्ट में पेशी के दौरान भी आरोपी को एक शख्स ने पुलिस के सामने थप्पड़ मार दिया, हालांकि पुलिस ने उसे धक्का देकर दूर कर दिया। आरोपी एक शातिर चोर है। उस पर महाराष्ट्र में चोरी के 37 मामले दर्ज हैं। पुलिस पूछताछ में आरोपी ने बताया कि शिल्पा का दूसरे मर्दों से बात करना उसे पसंद नहीं था, इसीलिए प्लान बनाकर उसकी हत्या कर दी।

जांच में ये भी पता चला है कि उसने 3 महीने पहले जबलपुर में फर्जी आधार कार्ड बनवाया था। आरोपी इसी आधार कार्ड से जबलपुर की अलग-अलग होटल में रुका करता था। इसमें उसने अपना नाम अभिजीत पाटीदार लिखा है। जो उसका असली नाम नहीं है। पुलिस पूछताछ में उसने अपना नाम हेमंत भदोड़े (नासिक महाराष्ट्री) बताया है। पुलिस के लिए अब यह भी जांच का विषय है कि आरोपी का आधार कार्ड किसने बनाया था।

पुलिस ने गिरफ्तारी के बाद आरोपी हेमंत से शिल्पा का मोबाइल फोन, चेन, अंगूठी और 1 लाख 52 हजार रुपए कैश जब्त किए हैं। भागने के दौरान मददगारों के संबंध में भी पूछताछ की जा रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here