Israel-Gaza Conflict: निर्दोष फलस्तीनी आबादी को नुकसान नहीं होना चाहिए…

Must Read

डबलिन: आयरलैंड के उप प्रधानमंत्री माइकल मार्टिन ने कहा है कि वह हमास के हमले की कड़ी ंिनदा करते हैं, लेकिन जवाबी कार्रवाई करने के अधिकार के तहत इजराइल द्वारा किए जा रहे हमलों में निर्दोष फलस्तीनी आबादी को नुकसान नहीं पहुंचाया जा सकता।

मार्टिन ने मंगलवार को डबलिन में ‘वैश्विक आयरलैंड शिखर सम्मेलन’ के इतर संवाददाताओं से कहा कि यूरोप एकजुट होकर हमास की ंिनदा करता है लेकिन कोई भी इजराइली प्रतिक्रिया मानवीय कानून के मापदंडों के अनुरूप ही होनी चाहिए।

मार्टिन आयरलैंड के विदेश मंत्री और रक्षा मंत्री भी हैं। वह हाल में लक्जमबर्ग में यूरोपीय संघ के विदेश मंत्रियों की बैठक के बाद डबलिन लौटे हैं। उन्होंने शत्रुता को तत्काल रोके जाने का आह्वान किया ताकि क्षेत्र में मानवीय मदद पहुंचाई जा सके।

उन्होंने कहा, ‘‘मैं इजराइल पर हमास के हमले की स्पष्ट रूप से ंिनदा करता हूं। इजराइल को आत्मरक्षा करने, हमास के इस जघन्य हमले के जवाब में अपनी और अपने लोगों की रक्षा करने का पूरा अधिकार है।’’ मार्टिन ने कहा कि अब मुद्दा यह है कि इन हमलों के लिए किस तरीके का इस्तेमाल किया जाए, क्योंकि इनमें निर्दोष आबादी को नुकसान नहीं पहुंचाया जा सकता।

मंत्री ने कहा कि हमास आम नागरिकों का ‘‘मानव ढाल’’ के रूप में इस्तेमाल करता है और क्षेत्र में उसके संरक्षक एवं समर्थक हैं, जिससे समस्या बढ़ जाती है। गाजा के स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताया कि इजराइली हमलों में 5,700 फलस्तीनी मारे गए हैं, जिनमें से 2,300 नाबालिग हैं। इजराइली सरकार के अनुसार, हमास के शुरुआती हमले में इजराइल में 1,400 लोगों की मौत हो गई।

मार्टिन ने इस सप्ताह शिखर सम्मेलन में एशिया प्रशांत क्षेत्र के लिए देश की प्रतिबद्धता को दोहराया। भारत नवीनीकृत एशिया प्रशांत रणनीति का एक प्रमुख पहलू है। क्षेत्र में आयरलैंड की उपस्थिति का विस्तार करने के प्रयासों के तहत मुंबई में एक नया महावाणिज्य दूतावास स्थापित किया गया है।

मार्टिन ने कहा, ‘‘हम भारत के अच्छे दोस्त हैं और सीमा विवादों के संदर्भ में बहुपक्षीय व्यवस्था को बढ़ाने के लिए काम करते रहेंगे।’’ उन्होंने कहा, ‘‘हम यूक्रेन का पुरजोर समर्थन करते हैं। हमारा मानना है कि रूस ने संयुक्त राष्ट्र चार्टर का मूल रूप से उल्लंघन किया है और हम अन्य देशों को कड़ा रुख अपनाने के लिए प्रोत्साहित करेंगे।’’

- Advertisement -

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

spot_img

More Articles